बेनामी संपत्ति केस में पूछताछ के बाद बोले रॉबर्ट वाड्रा- न्याय और सत्य की होगी जीत

रॉबर्ट वाड्रा

रॉबर्ट वाड्रा

रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) पर लंदन के ब्रायनस्टन स्क्वायर में 19 लाख पाउंड (लगभग 19 करोड़ रुपये) की कीमत का मकान खरीदने के लिए मनी लॉन्ड्रिंग (Money Laundering) का आरोप है. वाड्रा फिलहाल अग्रिम जमानत पर बाहर हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 4, 2021, 7:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली/गुरुग्राम. बेनामी संपत्ति के मामले में आयकर विभाग के अधिकारियों ने सोमवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) के पति रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) का बयान दर्ज किया है. जांच से जुड़े एक आईटी विभाग के सूत्र ने न्यूज एजेंसी एएनआई को इसकी जानकारी दी. सूत्र ने बताया कि बेनामी संपत्तियों के मामले में बयान दर्ज करने के लिए एक आईटी टीम सुखदेव विहार स्थित रॉबर्ट वाड्रा के दफ्तर पहुंची.

पूछताछ के बाद वाड्रा ने कहा कि हम यहां सहयोग करने के लिए हैं. हमने हर सवाल का जवाब दिया. इसमें कुछ भी बेनामी संपत्ति से जुड़ा कुछ भी नहीं है. न्याय और सत्य की जीत होगी. मेरे पास कुछ भी चिंता करने और परेशान करने वाली बात नहीं है. मैं हमेशा सहयोग करूंगा.

रॉबर्ट वाड्रा पर लंदन के ब्रायनस्टन स्क्वायर में 19 लाख पाउंड (लगभग 19 करोड़ रुपये) की कीमत का मकान खरीदने के लिए मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है. वाड्रा फिलहाल अग्रिम जमानत पर बाहर हैं. उनके खिलाफ आईटी विभाग के अलावा प्रवर्तन विभाग (ईडी) मनी लॉन्ड्रिंग (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत जांच कर रहा है.ये है नोएडा पुलिस की FIR- रॉबर्ट वाड्रा को बताया प्रियंका गांधी की ‘पत्नी’, बाद में किया भूल सुधार


































वाड्रा से पूछताछ और बयान दर्ज करने को लेकर आयकर विभाग ने पहले ही बात कर ली थी. वो आज पूछताछ के लिए तैयार थे. आयकर विभाग ने पहले सुबह 9:30 बजे का समय दिया पर रॉबर्ट वाड्रा ने 10:30 बजे के लिए कहा ताकि सारे पेपर्स लेकर वो तैयार हो सकें. उन्होंने आयकर विभाग की टीम को अपने सुखदेव विहार वाले दफ्तर पर बुलाया. आयकर विभाग की तरफ से प्रॉपर्टी की डिटेल्स अभी जारी नहीं की गई है. उम्मीद है कि शाम तक और जानकारी मिल सकती है.




































इससे पहले ईडी ने वाड्रा पर मनी लॉन्ड्रिंग केस की जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप लगाया था. हालांकि, वाड्रा के वकील ने ईडी के दावों को खारिज करते हुए कहा था कि एजेंसी जब कभी उनके मुवक्किल को बुलाती है, वह उसके सामने पेश होते हैं. उन्होंने जांच में पूरा सहयोग किया है.

छुट्टी मनाते रॉबर्ट वाड्रा का वीडियो वायरल, बीजेपी ने घेरा

रॉबर्ट वाड्रा के वकील ने यह भी कहा था कि ईडी ने जो सवाल किए, उनके मुवक्किल ने उनका जवाब दिया. ईडी के लगाए गए आरोपों को स्वीकार नहीं करने का यह अर्थ नहीं है कि वह जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं.

मूल रूप से वाड्रा परिवार पाकिस्तान के सियालकोट से है, भारत विभाजन के समय राजेंद्र वाड्रा के पिता यानी रॉबर्ट वाड्रा के दादा भारत आकर बस गए. रॉबर्ट वाड्रा के एक भाई और एक बहन थीं. 2001 में उनकी बहन की कार दुर्घटना में मौत हो चुकी है और 2003 में उनके भाई ने आत्महत्या कर ली थी. 2009 में उनके पिता की भी हार्ट अटैक से मौत हो गई. अब वाड्रा परिवार में उनकी मां ही उनके साथ हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज