अर्धसैनिक बलों में कोरोना के मामलों ने बढ़ाई चिंता, कोविड मैनेजमेंट प्लान की समीक्षा शुरू

अर्धसैनिक बलों में कोरोना के मामलों ने बढ़ाई चिंता, कोविड मैनेजमेंट प्लान की समीक्षा शुरू
अर्धसैनिक बलों में मामले, 1000 के पार जा चुके हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

अर्धसैनिक बलों के कोविड मैनेजमेंट (Covid-19 Management center)सेंटरों को निर्देश दिए गए हैं कि संक्रमित जवानों के आइसोलेशन और उनके कांटेक्ट ट्रेसिंग की प्रक्रिया सुचारू रूप से पूरी की जानी चाहिए.

  • Share this:
नई दिल्ली. देशभर में कोरोना वायरस  (Coronavirus) के बढ़ते संक्रमण का असर केंद्रीय अर्द्ध सैनिक बलों पर भी पड़ा है. अब तक CRPF और BSF में 1000 से ज्यादा जवान संक्रमित हो चुके हैं जो चिंता का विषय है. लिहाजा एक बार फिर इन बलों ने अपने कोविड मैनेजमेंट प्लान की समीक्षा की है जिसके तहत कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए कई कदम भी उठाए गए हैं, जिसमें स्थानीय अस्पतालों से संपर्क और आईसोलेशन प्रक्रिया में तेजी लाना है.

केंद्रीय अर्धसैनिक बल BSF में पिछले चौबीस घंटों में 53 जवान कोरोना से संक्रमित हुए जिसके बाद अब तक कुल संक्रमित जवानों की संख्या 1018 पहुंच गई है. यही नहीं CRPF में भी अब तक 1,131 जवान  कोरोना संक्रमण का शिकार हो चुके हैं.

ठीक होने की दर भी साठ फीसदी से अधिक
पहली बार इन फोर्सेज में संक्रमित लोगों का आंकड़ा एक हजार के पार पहुंचा है जबकि ITBP, CISF और SSB में भी कुल मामले एक हजार से ज्यादा हैं लिहाजा एक बार फिर इन बलों के भीतर कोरोना वायरस संक्रमण के इंतजामों की समीक्षा की जा रही है.



कोरोना संक्रमण के लिहाज से राहत की बात अर्धसैनिक बलों के लिए यह है की इनके ठीक होने की दर भी साठ फीसदी से अधिक है जो राष्ट्रीय दर से ज्यादा है. बावजूद इसके ऐसे मामले सामने आ रहे हैं जिसके चलते कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए और पुख्ता योजना बनाई जा रही है.



अर्धसैनिक बलों के भीतर कोरोनावायरस के मामलों को बढ़ता देख कुछ प्रमुख कदम उठाए गए हैं
- देशभर में मौजूद इन सुरक्षाबलों के कैंप की क्वारंटीन क्षमता बढ़ाई गई है.
- हर कैंप के कोरोना वायरस सुरक्षा इंतजाम का दोबारा आंकलन किया जा रहा है .
-हर सुरक्षाबल कैंप के पास मौजूद सरकारी अस्पतालों को जवानों की किसी भी आपातकालीन स्थिति के लिए तैयार रहने को कहा है.
-टेस्टिंग और आईसोलेशन प्रक्रिया में और तेजी लाई जा रही है.

अर्धसैनिक बलों के कोविड मैनेजमेंट सेंटरों को निर्देश दिए गए हैं कि संक्रमित जवानों के आइसोलेशन और उनके कांटेक्ट ट्रेसिंग की प्रक्रिया सुचारू रूप से पूरी की जानी चाहिए. देशभर में आंतरिक सुरक्षा के लिए तैनात अर्धसैनिक बलों के जवान इन दिनों कोरोना वायरस की रोकथाम और कानून व्यवस्था कायम करने के लिए स्थानीय पुलिस के साथ तैनात होकर अपनी ड्यूटी निभा रहे है. यही वजह है कि जवानों के बीच संक्रमण बढ़ गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading