होम /न्यूज /राष्ट्र /हर्षोल्लास के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवस, राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने तिरंगा फहराया, स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान को याद किया

हर्षोल्लास के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवस, राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने तिरंगा फहराया, स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान को याद किया

 उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में “जंगल राज” “2020 की पूर्व संध्या” पर समाप्त हो गया.

उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में “जंगल राज” “2020 की पूर्व संध्या” पर समाप्त हो गया.

योगी ने 75वें स्वतंत्रता दिवस पर यहां ध्वजारोहण किया और समारोह को संबोधित करते हुए कहा, ’’हमारे लिए कर्तव्य ही सबसे बड़ ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली: देश में रविवार को 75वां स्वतंत्रता दिवस मनाया गया और इस अवसर पर विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने ध्वजारोहण करने के साथ-साथ कई घोषणाएं भी की. साथ ही, ब्रिटिश शासन से स्वाधीनता पाने के लिए स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा दिए गए बलिदान को भी याद किया. इस अवसर पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह को श्रद्धांजलि के तौर पर 27 सितंबर से सरकारी विद्यालयों में ‘देशभक्ति’ पाठ्यक्रम शुरू करने की घोषणा की. वहीं, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आजादी का गला घोंटने की कोशिश करने वाली सभी ताकतों के खिलाफ आवाज उठाने का आह्वान किया.

    महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे(Uddhav Thackeray) ने कहा कि कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) सबको “आजादी से पूर्व के दिनों” में ले गई और लोगों से अपील की कि वे राज्य तथा देश को बीमारी से मुक्त बनाने का संकल्प लें. वहीं, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर सवाई मान सिंह स्टेडियम में राज्यस्तरीय समारोह में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली.

    घमंड की राजनीति ज्यादा नहीं चलती

    उन्होंने समारोह के बाद केन्द्र सरकार पर निशाना साधा और कहा कि ‘‘घमंड की राजनीति’’ ज्यादा लंबे समय नहीं चलती तथा जनता समय आने पर सबक सिखाएगी. इस बीच, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार स्वतंत्रता दिवस के मौके पर 15वीं बार तिरंगा फहराने वाले प्रदेश के पहले मुख्यमंत्री बन गए. दिल्ली सचिवालय में स्वतंत्रता दिवस के अपने संबोधन में केजरीवाल ने स्वतंत्रता सेनानियों के साथ ही साथ महामारी में लोगों की सेवा करते हुए जान गंवाने वाले डॉक्टरों, नर्सों और स्वास्थ्यकर्मियों को श्रद्धांजलि दी.

    मुख्यमंत्री ने 27 सितंबर से सरकारी विद्यालयों में देशभक्ति पाठ्यक्रम शुरू करने की घोषणा करते हुए कहा कि यह एक गतिविधि आधारित पाठ्यक्रम होगा और विद्यालय के बच्चों को देश के विकास में योगदान देकर अपना ‘शौर्य’ दिखाने और देश के लिए जान तक की कुर्बानी देने के लिए तैयार रहना सिखाया जाएगा. उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि देश की अपेक्षाओं पर खरा उतरना ही भारत के स्वाधीनता संग्राम सेनानियों और सीमा की सुरक्षा करने वाले वीर जवानों के लिए सच्ची श्रद्धांजलि होगी.

    कर्तव्य ही सबसे बड़ा राष्ट्र धर्म

    योगी ने 75वें स्वतंत्रता दिवस पर यहां ध्वजारोहण किया और समारोह को संबोधित करते हुए कहा, ’’हमारे लिए कर्तव्य ही सबसे बड़ा राष्ट्र धर्म है. हमारी अपनी पूजा पद्धति विशिष्‍ट हो सकती है लेकिन जब हम राष्ट्र के परिप्रेक्ष्य में सोचते हैं तो हमारा कर्तव्य ही हमारा राष्ट्र धर्म है.’’

    अपनी सरकार की उपलब्धियों की चर्चा करते हुए योगी ने कहा, ’’जो उत्तर प्रदेश देश की छठी अर्थव्यवस्था के रूप में जाना जाता था वह आज देश की दूसरी अर्थव्यवस्था के रूप में सामने आया है. कभी अराजकता जिसकी पहचान थी और जो दंगों के राज्य के रूप में जाना जाता था, कानून व्यवस्था ध्वस्त थी, नौजवानों के सामने पहचान का संकट था लेकिन आज वही उत्तर प्रदेश कानून-व्यवस्था में देश में रोल मॉडल बना है.’’

    2020 की पूर्व संध्या पर खत्म हो गया था जंगल राज

    केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में “जंगल राज” “2020 की पूर्व संध्या” पर समाप्त हो गया और हिंसा मुक्त जिला विकास परिषद (डीडीसी) का चुनाव कराकर केंद्र शासित प्रदेश में जमीनी स्तर के लोकतंत्र को मजबूत किया गया.

    राज्य की कई परियोजनाएं विश्व में सबसे बड़ी

    गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद कहा कि राज्य में कई ऐसी परियोजनाएं हैं, जो विश्व की सबसे बड़ी परियोजनाओं में से हैं और अब उसकी प्रतिस्पर्धा देश के अन्य राज्यों से नहीं, बल्कि दुनिया से है. रूपाणी ने दावा किया कि गुजरात एकमात्र ऐसा राज्य है, जो पूरी तरह से लॉकडाउन लगाए बिना दूसरी लहर के दौरान कोविड-19 वैश्विक महामारी से निपटने में सफल रहा.

    गांधी वादी आदर्श सबसे बड़े हथियार

    तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने रविवार को कहा कि जाति, धर्म और संप्रदाय से संबंधित चुनौतियों का सामना कर रहे देश को दिशा देने के लिये गांधीवादी आदर्श “सबसे बड़ा हथियार” हैं और इसे युवाओं के मन में स्थापित किया जाना चाहिए. आजादी के 75वें वर्ष के समारोह में राष्ट्रध्वज फहराने के बाद अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने राज्य में स्वतंत्रता सेनानियों और उनके परिवार को दी जाने वाली पेंशन में बढ़ोतरी की घोषणा की.

    केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा कि राज्य सरकार सामाजिक-आर्थिक असमानताओं को कम करने की दिशा में काम कर रही है जो भारत की स्वतंत्रता के 75 साल बाद भी व्याप्त हैं.

    पेंशन भोगियों के लिए हुई घोषणा

    हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने राज्य के सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए एक जुलाई से छह प्रतिशत अतिरिक्त महंगाई भत्ते (डीए) की घोषणा की. वहीं, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राज्य में जिलों का पुनर्गठन करते हुए चार नए जिलों, मोहला-मानपुर, सक्ती, सारंगढ़-बिलाईगढ़, मनेन्द्रगढ़ तथा 18 नई तहसीलों के गठन की घोषणा की.

    कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि वह कावेरी नदी के पास मेकेदातु जलाशय, महादयी पेयजल परियोजना और ऊपरी कृष्णा परियोजना के तीसरे चरण समेत जल संबंधी सभी विवादों को सुलझाने के लिए राज्य प्रतिबद्ध है.

    असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने उल्फा (यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम) (आई) के प्रमुख परेश बरुआ से वार्ता की मेज पर आने की रविवार को अपील की. उन्होंने कहा कि दशकों में ऐसा पहली बार हो रहा है, जब असम में उल्फा समेत किसी उग्रवादी संगठन के आहूत बंद के बिना स्वतंत्रता दिवस मनाया जा रहा है.

    नगालैंड के मुख्यमंत्री नेफियो रियो ने रविवार को लोगों से उन क्षेत्रों में कड़ी मेहनत करने का अनुरोध किया जहां राज्य पिछड़ रहा है, ताकि नगालैंड देश के किसी भी अन्य विकसित एवं प्रगतिशील राज्यों से पीछे नहीं रहे. स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर आयोजित मुख्य समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने नगा राजनीतिक समूहों से लोगों को एक संपूर्ण समाधान उपलब्ध कराने का आह्वान किया जोकि केंद्र के साथ वार्ता कर रहे हैं.

    Tags: 75th Independence Day, Arvind kejriwal, Independence day, Uddhav thackeray

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें