अलग अंदाज में होगा स्वतंत्रता दिवस समारोह, कोरोना से बचाव के लिए खास तैयारियां

अलग अंदाज में होगा स्वतंत्रता दिवस समारोह, कोरोना से बचाव के लिए खास तैयारियां
ध्वजारोहण, परेड और पीएम मोदी का राष्ट्र के नाम संबोधन पहले की तरह होगा.

Independence Day celebrations 2020: कोरोना वायरस से बचाव के लिए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत VVIP की सुरक्षा के मद्देनजर इंडियन आर्मी, इंडियन एयरफोर्स, इंडियन नेवी और दिल्ली पुलिस के सभी अधिकारी जो परेड का हिस्सा रहेंगे वो और उनके ड्राइवर, ऑपरेटर, कुक, बस ड्राइवर परेड ट्रेनर, बाकी स्टाफ सभी को 15 अगस्त तक के लिए क्वारंटाइन किया गया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus infection) के फैलाव के बीच राजधानी दिल्ली में स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम (Independence day program) की तैयारियां की जा रही हैं. इस बार 15 अगस्त को दिल्ली के लाल किले (Red Fort) से निकलने वाली परेड के लिए खास इंतजाम किए गए हैं. कोरोना वायरस से बचाव के लिए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत VVIP  की सुरक्षा के मद्देनजर इंडियन आर्मी (Indian Army), इंडियन एयरफोर्स, इंडियन नेवी (Indian Navy) और दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के सभी अधिकारी जो परेड का हिस्सा रहेंगे वो और उनके ड्राइवर, ऑपरेटर, कुक, बस ड्राइवर, परेड ट्रेनर, बाकी सभी स्टाफ को 15 अगस्त तक के लिए क्वारंटाइन किया गया है.

इस क्वारंटाइन में केवल परेड से जुड़े सभी अधिकारी और उनका तमाम स्टाफ केवल परेड रिहर्सल और 15 अगस्त परेड से जुड़ी तैयारी में हिस्सा लेगा और सीधे अपने घर जाएगा. आर्मी के अलावा यह आदेश दिल्ली पुलिस के सभी स्टाफ को भी मौखिक तौर पर दिया गया है.

15 अगस्त की परेड में नहीं होगा संक्रमण का खतरा!
15 अगस्त की परेड में कोरोना संक्रमण का न खतरा हो इसके लिए यह फैसला लिया गया है. ऐसा इसलिए कहा गया है क्योंकि 15 अगस्त परेड में देश के पीएम के अलावा कई VVIP और VIP शामिल होते हैं. रेड कार्पेट पर गार्ड ऑफ ऑनर के वक्त खुद पीएम परेड कमांडर और जवानों के बीच से होकर गुजरते है, जिसको ध्यान में रखकर यह फैसला लिया गया है.
इंडियन आर्मी ने तैयार किया पूरा प्लान


15 अगस्त तक परेड में शामिल हर सरकारी वाहन को रोजाना सेनेटाइज करने के भी सख्त आदेश एजेंसियों की तरफ से सभी यूनिट को दिए गए है. न्यूज 18 इंडिया के पास मौजूद गोपनीय दस्तावेजों में इस बात को भी स्पष्ट कहा गया है कि इंडियन आर्मी की पहल और प्लान के बाद कोरोना बचाब की यह रूपरेखा तैयार की गई है.

कम होगी लोगों की भीड़
कोरोना महामारी के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए ऐसा माना जा रहा है कि इस बार 15 अगस्त की परेड को देखने के लिए बहुत ही कम लोगों का जमावड़ा इकट्ठा होगा. लाल किला मैदान में हर बार करीब 10 हजार लोग इस राष्ट्रीय पर्व का गवाह बनते थे, लेकिन इस बार इनकी जगह करीब 1500 कोरोना वॉरियरों को यहां आमंत्रित किए जाने की बात है. उद्देश्य यह है कि इससे इस महामारी से लड़ाई में इनका मनोबल और उंचा हो सके और कोरोना से जूझ रहे देश को भी इनके जरिए प्रधानमंत्री सकारात्मक संदेश दे सकें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading