देश में कोरोना के एक्टिव मामलों में 38 फीसदी की गिरावट, तमिलनाडु सहित 3 राज्यों में बढ़े केस

आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली, उत्तर प्रदेश में संक्रमण के मामलों में 1 मई से 31 मई के बीच 85 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. फाइल फोटो

आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली, उत्तर प्रदेश में संक्रमण के मामलों में 1 मई से 31 मई के बीच 85 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. फाइल फोटो

India Active Covid cases drop by over 38 percent: देश में एक्टिव केस की संख्या 20.26 लाख है, जबकि 1 मई को एक्टिव केस की संख्या 32.68 लाख हो गई थी. देश के कुल एक्टिव केस के मामलों में 38 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है.

  • Share this:

नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों (Coronavirus Cases in India) में 1 मई के बाद से 38 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. लेकिन, तमिलनाडु, असम, ओडिशा, आंध्र प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों में इसी दौरान तेजी से उछाल आया है. आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली, उत्तर प्रदेश में संक्रमण के मामलों में 1 मई से 31 मई के बीच 85 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. सोमवार को देश में एक्टिव केस की संख्या 20.26 लाख है, जबकि 1 मई को एक्टिव केस की संख्या 32.68 लाख हो गई थी. देश के कुल एक्टिव केस के मामलों में 38 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. दूसरी ओर भारत में 1 मई को संक्रमण के 4.01 लाख नए मामले सामने आए थे, जिसमें 62 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. सोमवार को संक्रमण के नए मामलों की संख्या 1.52 लाख रही.

राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों में देखें तो दिल्ली में संक्रमण के नए मामलों और एक्टिव केस के मामलों में भी सबसे ज्यादा गिरावट देखी गई है. 1 मई को दिल्ली में कोरोना के 27,047 मामले सामने आए थे, जबकि एक्टिव केस 99,261 थे. वहीं सोमवार की सुबह राजधानी दिल्ली में कोरोना के 946 केस आए और एक्टिव केस की संख्या गिरकर 12,100 हो गई है.

ये भी पढ़ें- बैंक ग्राहकों को क्रिप्‍टोकरेंसी से दूर रहे की चेतावनी, रद्द हो सकते हैं Cards

उत्तर प्रदेश में भी कोरोना के नए मामलों और एक्टिव केस में कमी देखी गई है. उत्तर प्रदेश में रोजाना के मामलों में 94.57 प्रतिशत की गिरावट देखी गई है, जबकि एक्टिव केस की संख्या में 86.73 प्रतिशत की गिरावट आई है. 1 मई को उत्तर प्रदेश में एक्टिव केस की संख्या 3.10 लाख थी, जबकि सोमवार को एक्टिव केस की संख्या 41,214 हो गई है. इसके साथ उत्तर प्रदेश में 1 मई को 34,372 नए मामले दर्ज किए गए थे, जबकि सोमवार को नए मामलों की संख्या 1,864 है.
महाराष्ट्र में एक्टिव केस में 50 फीसदी की गिरावट

कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों में महाराष्ट्र प्रमुख है. राज्य में कोरोना के एक्टिव मामलों में 50 फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखी गई है. राज्य में 1 मई को 6.64 लाख एक्टिव केस थे, जोकि सोमवार को गिरकर 2.74 लाख हो गए हैं. इस तरह राज्य में एक्टिव केस की संख्या में 58.68 प्रतिशत की गिरावट देखी गई है. महाराष्ट्र के साथ केरल, पश्चिम बंगाल और कर्नाटक में भी एक्टिव केस की संख्या में गिरावट देखी गई है.

इसके उलट तमिलनाडु और असम में एक्टिव केस के मामलों में दोगुना इजाफा दर्ज किया गया है. तमिलनाडु में एक्टिव केस की संख्या में 165.39 प्रतिशत की उछाल आई है. राज्य में एक्टिव केस के मामले 1.15 लाख से 3.05 लाख हो गए हैं. 1 मई को राज्य में कोरोना के नए मामले 18,692 मामले थे, जोकि शुक्रवार को बढ़कर 28,864 हो गए.



ये भी पढ़ें- Rajasthan: प्रदेश में 2 जून से अनलॉक की शुरुआत, जानें क्या खुलेगा, क्या बंद

असम में 1 मई को कोरोना के 3,197 केस थे, जबकि सोमवार को राज्य में संक्रमण के मामलों में 1.5 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है. असम के एक्टिव केस की बात करें तो राज्य में 113.7 प्रतिशत का उछाल देखा गया है. 1 मई को राज्य में 25,173 एक्टिव केस थे, जबकि 31 मई को राज्य में एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 53,795 हो गई है. बता दें कि असम और तमिलनाडु में मार्च और अप्रैल के महीने में विधानसभा के चुनाव हुए थे.

तमिलनाडु और असम में बढ़े मामले

इसके उलट तमिलनाडु और असम में एक्टिव केस के मामलों में दोगुना इजाफा दर्ज किया गया है. तमिलनाडु में एक्टिव केस की संख्या में 165.39 प्रतिशत की उछाल आई है. राज्य में एक्टिव केस के मामले 1.15 लाख से 3.05 लाख हो गए हैं. 1 मई को राज्य में कोरोना के नए मामले 18,692 मामले थे, जोकि शुक्रवार को बढ़कर 28,864 हो गए.

असम में 1 मई को कोरोना के 3,197 केस थे, जबकि सोमवार को राज्य में संक्रमण के मामलों में 1.5 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है. असम के एक्टिव केस की बात करें तो राज्य में 113.7 प्रतिशत का उछाल देखा गया है. 1 मई को राज्य में 25,173 एक्टिव केस थे, जबकि 31 मई को राज्य में एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 53,795 हो गई है. बता दें कि असम और तमिलनाडु में मार्च और अप्रैल के महीने में विधानसभा के चुनाव हुए थे.

ओड़िशा और आंध्र प्रदेश में बढ़े मामले

इसके ओडिशा (48.06 प्रतिशत) और आंध्र प्रदेश (34.81 per cent) में भी एक्टिव केस के मामलों में इजाफा देखा गया है. ओडिशा में एक्टिव केस की संख्या 83,438 है, जबकि आंध्र प्रदेश में एक्टिव केस की संख्या सोमवार शाम तक 1.65 लाख थी. हालांकि ओडिशा में रोजाना के मामलों में भी इजाफा देखा गया है, जबकि आंध्र प्रदेश में रोजाना के मामलों में 22.78 प्रतिशत की कमी देखी गई है.


जिन राज्यों में रोजाना के मामलों में 50 फीसदी से ज्यादा की कमी देखी गई है, उनमें हरियाणा, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र, कर्नाटक और पंजाब शामिल हैं. केरल में रोजाना के मामलों में 47 फीसदी की कमी आई है, जबकि पश्चिम बंगाल में रोजाना के मामलों में 35 फीसदी की कमी दर्ज की गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज