Home /News /nation /

लगातार बातचीत कर रहे हैं भारत-चीन, चर्चा ने की एक-दूसरे का स्टैंड जानने में मदद: MEA

लगातार बातचीत कर रहे हैं भारत-चीन, चर्चा ने की एक-दूसरे का स्टैंड जानने में मदद: MEA

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने इस संबंध में जानकारी दी है. . (तस्वीर-ani)

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने इस संबंध में जानकारी दी है. . (तस्वीर-ani)

विदेश मंत्रालय (MEA) के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव (Anurag Srivastava) ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया है कि राजनयिक और सैन्य बातचीत जारी है. चर्चा के जरिए दोनों देशों को एक-दूसरे का स्टैंड जानने में मदद मिली है. उन्होंने बताया कि सीमा विवाद को लेकर आखिरी बातचीत 18 दिसंबर को संपन्न हुई.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. विदेश मंत्रालय (MEA) ने कहा है कि सीमा विवाद (Border Dispute) के बीच भारत और चीन लगातार विभिन्न चैनलों के जरिए बातचीत कर रहे हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव (Anurag Srivastava) ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया है कि राजनयिक और सैन्य बातचीत जारी है. चर्चा के जरिए दोनों देशों को एक-दूसरे का स्टैंड जानने में मदद मिली है. उन्होंने बताया कि सीमा विवाद को लेकर आखिरी बातचीत 18 दिसंबर को संपन्न हुई.

    उन्होंने बताया कि भारतीय लोगों को लिए जहाज चीन के जिंगतांग बंदरगाह पर फंसे हुए हैं. हमारी सरकार लगातार इसे लेकर चीन की सरकार के साथ संपर्क में है. इसके अलावा ब्रिटेन में कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि हम ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के स्वागत के लिए तैयार हैं. गौरतलब है कि ब्रिटेन में कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर दुनियाभर में खलबली है. इस बार गणतंत्र दिवस पर ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन मुख्य अतिथि होंगे.



    नेपाल के राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर विदेश मंत्रालय ने कहा है कि भारत ने पूरी निगाह बनाई हुई है. अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि ये नेपाल का आंतरिक मामला है. वो इसे अपने लोकतांत्रिक तरीके से सुलझाएगा. एक पड़ोसी के तौर पर भारत हमेशा नेपाल की मदद करता रहेगा.

    वहीं भारत-रूस सालाना बैठक को लेकर अनुराग श्रीवास्तव ने बताया कि ये कोविड-19 की वजह से नहीं हो सकी. ये निर्णय दोनों ही सरकारों की सहमति से लिया गया था. इसे लेकर कोई भी कयासबाजी नहीं करनी चाहिए. अगली बैठक की तारीख फाइनल होने पर जानकारी दे दी जाएगी.

    Tags: India china border dispute, MEA, Xi jinping

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर