चीन विवाद पर सर्वदलीय बैठक में बोलीं ममता बनर्जी- वो तानाशाह देश है, कुछ भी कर सकता है

चीन विवाद पर सर्वदलीय बैठक में बोलीं ममता बनर्जी- वो तानाशाह देश है, कुछ भी कर सकता है
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का फाइल फोटो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने कहा, 'तृणमूल कांग्रेस संकट की इस घड़ी में देश के साथ खड़ी है.'

  • Share this:
नई दिल्ली. लद्दाख में भारत-चीन सीमा (India China Rift ) की स्थिति पर चर्चा करने के लिए शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने कहा, 'तृणमूल कांग्रेस संकट की इस घड़ी में देश के साथ खड़ी है.'

ममता बनर्जी ने कहा, 'चीन एक लोकतंत्रिक देश नहीं है. वो एक तानाशाह हैं. वो जो महसूस करते हैं वह कर सकते हैं. दूसरी ओर, हमें साथ काम करना होगा. भारत जीत जाएगा, चीन हार जाएगा.' उन्होंने कहा, 'एकता के साथ बोलिए. एकता के साथ सोचें. एकता के साथ काम करें. हम ठोस रूप से सरकार के साथ हैं.'

सूत्रों के मुताबिक बैठक में ममता ने कहा, 'चीन को दूरसंचार, रेलवे और विमानन क्षेत्रों में प्रवेश नहीं करने देंगी. हम कुछ समस्याओं का सामना करेंगे लेकिन हम चीन को प्रवेश करने की अनुमति नहीं देनी है.'



ये भी पढ़ेंः- सोनिया गांधी- कुछ चीजें अंधेरे में, 5 मई के बाद ही बुलानी चाहिए थी बैठक



इससे पहले ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक का स्वागत किया था. ममता ने कहा था कि उनकी पार्टी संकट की इस घड़ी में देश के साथ खड़ी है. उन्होंने कहा था कि हम संकट की इस घड़ी में देश और हमारे सशस्त्र बलों के साथ खड़े हैं और सर्वदलीय बैठक बुलाने के फैसले का पूर्ण समर्थन करते हैं. तकनीकी रूप से, यह एक सही निर्णय है.

सोनिया गांधी ने पूछे तीखे सवाल
वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सर्वदलीय बैठक में सरकार से कई तीखे सवाल पूछे. उन्होंने कहा कि हम अब भी इस विवाद के कई अहम पहलुओं को लेकर अंधेरे में हैं. सोनिया गांधी ने सरकार से सवाल किया कि आखिर किस दिन लद्दाख में चीनी सैनिकों ने घुसपैठ की? सरकार को कब चीनी घुसपैठ का पता चला? क्या सरकार को 5 मई को चीनी घुसपैठ की जानकारी हुई या और पहले?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज