Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    सुलझ रहा सीमा विवाद: पैंगोंग लेक के पास अप्रैल-मई के बाद बने निर्माण हटाएंगे भारत-चीन

    पैंगोंग लेक के इलाके से निर्माण हटाने पर सहमति बनी है. (फाइल फोटो)
    पैंगोंग लेक के इलाके से निर्माण हटाने पर सहमति बनी है. (फाइल फोटो)

    एनआई पर प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक दोनों देश अप्रैल मई के बाद बनाए गए सभी निर्माण (All Structures) हटाएंगे. समाचार एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि दोनों ही देश LAC के पास फिंगर 4 से लेकर फिंगर 8 के बीच किसी भी तरह की पेट्रोलिंग (Patrolling) भी नहीं करेंगे.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 13, 2020, 8:41 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. आपसी सहमति के बाद अब भारत और चीन (INDIA-CHINA) दोनों लद्दाख स्थित पैंगोंग लेक (Pangong Lake) इलाके से अपने निर्माण हटाएंगे. एएनआई पर प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक दोनों देश अप्रैल-मई के बाद बनाए गए सभी निर्माण (All Structures) हटाएंगे. समाचार एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि दोनों ही देश LAC के पास फिंगर 4 से लेकर फिंगर 8 के बीच किसी भी तरह की पेट्रोलिंग (Patrolling) भी नहीं करेंगे.

    6 नवंबर को कमांडर लेवल बातचीत में बनी बात
    इससे पहले खबर आई थी कि भारत और चीन में लद्दाख के विवाद वाली जगहों से सेनाएं हटाने (Disengagement) यानी डिस्एंगेजमेंट को लेकर सहमति बन गई है. इसके तहत दोनों देशों के सैनिक अप्रैल-मई वाली अपनी पुरानी यथास्थिति पर लौट जाएंगे. इस पर 6 नवंबर को चुशुल में कॉर्प्स-कमांडर लेवल की आठवें चरण की बातचीत में चर्चा हुई थी. हालांकि, इस मामले पर अभी तक भारत सरकार या भारतीय सेना की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है. चीन की तरफ से भी कोई स्टेटमेंट नहीं आया है.


    तीन फेज के प्लान पर दोनों देशों ने सहमति जताई


    लद्दाख के चुशूल में 6 नवंबर को भारत-चीन की सेनाओं के बीच आठवें राउंड की बात हुई थी. इसमें तीन फेज के प्लान पर दोनों देशों ने सहमति जताई थी. पहले फेज में पैंगोंग झील इलाके को पहले हफ्ते में खाली किया जाएगा. टैंक और सैनिकों को वापस भेजा जाएगा. दूसरे फेज में दोनों सेनाएं पैंगोंग इलाके के पास से हर रोज अपने 30 फीसदी सैनिकों को हटाएंगी. ये प्रक्रिया तीन दिनों तक जारी रहेगी. इस दौरान चीनी सेना फिंगर 8 के पास वापस लौटेगी, तो वहीं भारतीय सेना अपनी धान सिंह थापा पोस्ट पर आएगी.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज