Assembly Banner 2021

पाकिस्तान पर भारत का बड़ा बयान: अहम मुद्दों पर रुख नहीं बदला, चाहते हैं शांतिपूर्ण रिश्ते

विदेय़ मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव. (ANI/25 Feb 2021)

विदेय़ मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव. (ANI/25 Feb 2021)

India Pakistan News: भारत और पाकिस्तान ने 2003 में संघर्ष विराम समझौता किया था, लेकिन पिछले कुछ वर्षों से शायद ही इस पर अमल हुआ.

  • भाषा
  • Last Updated: February 26, 2021, 10:28 AM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. भारतीय और पाकिस्तानी सेना द्वारा संघर्ष विराम (Ceasefire) पर सभी समझौतों का सख्ती से पालन करने पर सहमति व्यक्त करने के बीच विदेश मंत्रालय (MEA) ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत, पाकिस्तान के साथ सामान्य पड़ोसी जैसे रिश्ते चाहता है और शांतिपूर्ण तरीके से सभी मुद्दों को द्विपक्षीय ढंग से सुलझाने के लिए प्रतिबद्ध हैं.


विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने संवाददाताओं से कहा, ‘महत्वपूर्ण मुद्दों पर हमारे रूख में कोई बदलाव नहीं आया है और मुझे यह दोहराने की जरूरत नहीं.’ उन्होंने कहा, ‘भारत, पाकिस्तान के साथ सामान्य पड़ोसी जैसे रिश्ते चाहता है और शांतिपूर्ण तरीके से सभी मुद्दों को द्विपक्षीय ढंग से सुलझाने के लिए प्रतिबद्ध हैं.’


Youtube Video

उनकी यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब भारत (India) एवं पाकिस्तान (Pakistan) के सैन्य अभियान महानिदेशकों (डीजीएमओ) के बीच बैठक के बाद जारी एक संयुक्त बयान में कहा गया है कि दोनों पक्षों ने नियंत्रण रेखा पर और अन्य क्षेत्रों में संघर्ष विराम पर सभी समझौतों का सख्ती से पालन करने पर सहमति जताई है. दोनों देशों के बीच संघर्ष विराम को लेकर फैसला बुधवार आधी रात से लागू हो गया.


प्रवक्ता ने कहा कि हमने हमेशा यह कहा है कि हम सभी मुद्दों, अगर कोई है, उसका शांतिपूर्ण और द्विपक्षीय समाधान निकालने को प्रतिबद्ध हैं. इस घटनाक्रम के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि डीजीएमओ के संयुक्त बयान से जुड़े मुद्दे रक्षा मंत्रालय के तहत आते हैं.






भारत और पाकिस्तान ने 2003 में संघर्ष विराम समझौता किया था, लेकिन पिछले कुछ वर्षों से शायद ही इस पर अमल हुआ. बहरहाल, सैन्य अधिकारियों ने कहा है कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई या सीमा पर सैनिकों की तैनाता में कोई कमी नही की जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज