भारत ने UN में दिखाया पाकिस्तान को आईना, बताई इमरान सरकार की हकीकत

भारत ने संयुक्त राष्ट्र में इमरान सरकार की पोल खोल दी है.
भारत ने संयुक्त राष्ट्र में इमरान सरकार की पोल खोल दी है.

मानवाधिकार की स्थिति को लेकर संयुक्त राष्ट्र (UNHRC) में भारत (India) के फर्स्ट सेक्रेटरी संथिल कुमार (Senthil Kumar) ने कहा है कि इमरान खान (Imran Khan) के नए पाकिस्तान (Pakistan) में लोगों को भरोसा नहीं रहा कि वो सुरक्षित घर वापस लौटेंगे या नहीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 21, 2020, 11:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (United Nations Human Rights Council-UNHRC) में भारत ने पाकिस्तान की इमरान सरकार (Imran Khan Goverment) को आईना दिखाया है. मानवाधिकार की स्थिति को लेकर संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई मिशन के फर्स्ट सेक्रेटरी संथिल कुमार ने कहा है कि इमरान के नए पाकिस्तान में लोगों को भरोसा नहीं रहा कि वो सुरक्षित घर वापस लौटेंगे या नहीं. सेंथिल कुमार ने कहा है कि पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने आतंक से लड़ाई के नाम पर लोगों की हत्याएं और अपहरण का सिलसिला चला रखा है. और ज्यादा बुरी हालत इस वजह से है क्योंकि वहां पर न्यायपालिका भी बेहद कमजोर हालात में है.

सेंथिल कुमार ने अंतरराष्ट्रीय एजेंसी का ध्यान पाकिस्तानी पत्रकारों की प्रताड़ना की तरफ भी दिलाया. पत्रकार मार्वी सिर्मेद, अहमद नूरानी, गुल बुखारी, मानवाधिकार कार्यकर्ता इदरीश खटक की तरफ इशारा करते हुए सेंथिल कुमार ने कहा-धमकियों, मारपीट के जरिए पत्रकारों और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को निशाना बनाया जा रहा है.


इसके अलावा भारत ने पाकिस्तान में हत्याओं, कस्टोडियल डेथ, मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को शोषण सहित अन्य मामलों पर डिटेल जानकारी दी. भारत ने कहा है कि बड़ी संख्या में कश्मीरियों को गुप्त हिरासत में रखा गया है. सुरक्षा बल इन लोगों को बुरी तरह प्रताड़ित करते हैं. साथ ही पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय की हालत दयनीय है.



साथ ही भारत ने पाकिस्तान में सिख लड़कियों के अपहरण के मामलों को बहुत मजबूती के साथ उठाया. गौरतलब है कि हाल फिलहाल में पाकिस्तान में सिख लड़कियों के अपहरण के 55 मामले सामने आए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज