Home /News /nation /

ट्रंप की राह पर भारत! कोरोना वायरस से बचने के लिए कई राज्यों ने सीमा पर खड़ी की दीवार

ट्रंप की राह पर भारत! कोरोना वायरस से बचने के लिए कई राज्यों ने सीमा पर खड़ी की दीवार

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा है कि कोविड-19 पर स्थिति की व्यापक समीक्षा करने के बाद यह फैसला लिया गया.

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा है कि कोविड-19 पर स्थिति की व्यापक समीक्षा करने के बाद यह फैसला लिया गया.

कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को रोकने के लिए कई राज्य अब सीमा पर दीवार खड़ी कर रहे हैं. इनमें तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश का मामला पिछले दिनों काफी सुर्खियों में रहा.

    नई दिल्ली. अमेरिका और मेक्सिको के बॉर्डर पर बनी दीवार के बारे में आपने जरूर सुना होगा. वो दीवार जिसे लोग 'ट्रंप वॉल' के नाम से जानते हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कहने पर ये दीवार खड़ी की गई, जिससे कि कोई भी मेक्सिको के रास्ते गैरकानूनी तरीके से अमेरिका में न आ सके. अब भारत में भी ऐसी दीवार बनने लगी है, लेकिन वो किसी दूसरे देश के बॉर्डर पर नहीं बल्कि राज्यों की सीमाओं (States Border) पर. दरअसल कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को रोकने के लिए कई राज्य अब सीमा पर दीवार खड़ी कर रहे हैं.

    तमिलनाडु-आंध्र प्रदेश बॉर्डर
    अंग्रेजी अखबार द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक कई राज्य अपने बॉर्डर को सील करने के लिए बैरिकेड्स रख रहे हैं या फिर वो दीवार खड़ी कर रहे हैं. पिछले दिनों लोग तमिलनाडु में वेल्लोर के पास आंध्र प्रदेश बॉर्डर पर दो कंक्रीट की दीवार देखकर हैरान हो गए. रोड को बंद करने के लिए रातों-रात तैयार की गई इस दीवार की चौड़ाई 3 फीट और लंबाई 5 फीट है. दरअसल वेल्लोर में मेडिकल की अच्छी सुविधा है. यहां कई बड़े और अच्छे हॉस्पिटल हैं. ऐसे में लोगों को यहां आने से रोकने के लिए तमिलनाडु की तरफ से दीवार बना दिए गए. परेशानी वेल्लोर के दूध बेचने वालों को भी हो रही है. यहां के किसान अब दूध लेकर दूसरे रास्तों से आंध्र प्रदेश पहुंच रहे हैं.

    ओडिशा-आंध्र प्रदेश बॉर्डर
    उधर ओडिशा ने भी कोरोना वायरस से बचने के लिए आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले के बॉर्डर के पास एक दीवार बना दी है. इस दीवार के बारे में लोगों को तब पता लगा जब एक प्रेग्नेंट आदिवासी महिला को बांस के बने बल्लियों पर हॉस्पिटल पहुंचाया जा रहा था. वो इसी रास्ते से जा रही थी. ये वीडियो वायरल हुआ तो लोगों ने यहां सड़क पर दीवार देखी.

    दिल्ली-यूपी-हरियाणा बॉर्डर
    कोरोना वायरस को लेकर दिल्ली-उत्तर प्रदेश के बॉर्डर पर भी कोहराम मचा है. रविवार को नोएडा बॉर्डर को सख्ती से सील कर दिया गया. मेडिकल स्टाफ को भी बॉर्डर पार करने की इजाजत नहीं थी. कहा गया कि सिर्फ कोरोना के इलाज में लगे स्टाफ को बॉर्डर पार करने की इजाजत दी जाएगी. दिल्ली के बाकी बॉर्डर का भी यही हाल है. फरीदाबाद, गुरुग्राम और गाजियाबाद हर जगह सख्ती बरती जा रही है. दिल्ली में काम करने वाले कई लोग यूपी और हरियाणा में रहते हैं. दिल्ली सरकार ने अपने यहां काम करने वालों को 72 घंटों में दिल्ली शिफ्ट करने के लिए कहा है.

    गोवा-महाराष्ट्र-कर्नाटक बॉर्डर
    उधर गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने पीएम मोदी से कहा कि वो चाहते हैं कि 3 मई के बाद भी कर्नाटक और महाराष्ट्र से लगने वाले बॉर्डर बंद रहे. इस बीच आंध्र प्रदेश ने बॉर्डर पर दीवार को लेकर सवाल खड़े किए हैं. उनका कहना है कि इस तरह दीवार बनाने से मेडिकल इमरजेंसी में लोगों को आना-जाना मुश्किल होगा.

    ये भी पढ़ें:

    दुनिया में कोरोना Live: संक्रमण के केस 30 लाख के पार, 24 घंटे में 4500 की मौत

    सोशल मीडिया पर फेक न्यूज़ फैलाने के आरोप में रिटायर्ड मेजर के खिलाफ केस दर्ज

    Tags: Coronavirus in India, Lockdown

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर