लाइव टीवी

भारत-फ्रांस सेना का संयुक्त युद्धाभ्यास ‘शक्ति 2019’ शुरू होगा 31 अक्टूबर से

News18Hindi
Updated: October 25, 2019, 4:07 PM IST
भारत-फ्रांस सेना का संयुक्त युद्धाभ्यास ‘शक्ति 2019’ शुरू होगा 31 अक्टूबर से
महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में ‘शक्ति 2019’ 31 अक्टूबर से शुरू होगा

सेना के प्रवक्ता कर्नल संबित घोष ने शुक्रवार को बताया कि 31 अक्टूबर से शुरू होने वाला यह अभ्यास पूरी तरह से आंतकवाद विरोधी अभियानों पर केंद्रित होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 25, 2019, 4:07 PM IST
  • Share this:
बीकानेर. बीकानेर (Bikaner) की महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में 31 अक्टूबर 2019 से भारत-फ्रांस (India-France) सेना का संयुक्त अभ्यास ‘शक्ति 2019’ (Shakti-2019) शुरू होगा. अभ्यास में भाग लेने के लिए फ्रांसीसी सेना के जवान और अधिकारी 26 अक्टूबर को यहां पहुंचेंगे. सेना के प्रवक्ता कर्नल संबित घोष ने शुक्रवार को बताया कि यह अभ्यास पूरी तरह से आंतकवाद विरोधी अभियानों पर केंद्रित होगा. इस युद्धाभ्यास में मरुस्थल में काउंटर टेरेरिज्म का अभ्यास किया जाएगा.

दोनों देशों की सेनाओं का संयुक्त अभ्यास 31 अक्टूबर से 13 नवंबर 2019 तक महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में होगा. इस युद्वाभ्यास (Military Exercise) में भारत की ओर से सप्त शक्ति कमांड के अधीन सिख रेजिमेंट और 6 आर्म्ड बिग्रेड की 21 मेरीन इंफेंट्री रेजिमेंट के जवान एवं अधिकारी भाग लेंगे.

उन्होंने बताया कि इससे पहले भी 2016 में दोनों देशों के बीच यहां शक्ति युद्वाभ्यास हो चुका है. भारत और फ्रांस के बीच शक्ति युद्धाभ्यास की शुरुआत वर्ष 2011 में हुई थी. भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व सप्तशक्ति कमान की सिख रेजिमेंट की एक टुकड़ी करेगी. फ्रांसीसी सेना का प्रतिनिधित्व फ्रांसीसी सेना के 6वें बख्तरबंद ब्रिगेड की 21वीं समुद्री इंफेंट्री रेजिमेंट के सैनिकों द्वारा किया जाएगा. इस युद्धाभ्यास में आधुनिक हथियारों का इस्तेमाल किया जाएगा.

इस युद्धाभ्यास का मुख्य उद्देश्य दोनों सेनाओं के बीच समझ, सहयोग और अंतरसक्रियता को बढ़ाना है. युद्धाभ्यास शक्ति-2019 का समापन 36 घण्टे लम्बी एक्सरसाइज के साथ होगा, जिसमें एक गांव में छिपे आतंकवादियों को ढूंढ़ कर मार गिराया जाएगा. (भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें : भारत-फ्रांस रक्षा वार्ता से मजबूत होंगे रणनीतिक संबंध: राजनाथ

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 25, 2019, 4:07 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...