Home /News /nation /

चीन-पाकिस्तान के पास है बड़ा परमाणु जखीरा, इस नई रिपोर्ट ने बजाई भारत के लिए खतरे की घंटी

चीन-पाकिस्तान के पास है बड़ा परमाणु जखीरा, इस नई रिपोर्ट ने बजाई भारत के लिए खतरे की घंटी

नई रिपोर्ट में खुलासा हुआ है भारत से ज्यादा परमाणु हथियार चीन और पाकिस्तान के पास हैं. (सांकेतिक तस्वीर-मनी कंट्रोल)

नई रिपोर्ट में खुलासा हुआ है भारत से ज्यादा परमाणु हथियार चीन और पाकिस्तान के पास हैं. (सांकेतिक तस्वीर-मनी कंट्रोल)

Nuclear Weapon Comparision: एक नई रिपोर्ट कहती है कि चीन, पाकिस्तान और भारत तीनों ही इस वक्त बैलिस्टिक, क्रूज, न्यक्लियर मिसाइल पर काम रहे हैं जिसके जरिए समुद्र से मार की जा सके. रिपोर्ट कहती है कि पाकिस्तानी सरकार ने कभी आधिकारिक तौर पर नहीं बताया कि उसके पास कितने परमाणु हथियार है. रिपोर्ट का आकलन है कि पाकिस्तान के पास करीब 165 परमाणु हथियार हो सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. एक नई अमेरिकी रिपोर्ट (US Report) में कहा गया है कि चीन और पाकिस्तान (China-Pakistan) के पास भारत की तुलना में ज्यादा परमाणु हथियार (Nuclear Weapon) हैं. रिपोर्ट कहती है कि चीन (China), पाकिस्तान (Pakistan) और भारत (India) तीनों ही इस वक्त बैलिस्टिक, क्रूज, न्यक्लियर मिसाइल पर काम रहे हैं जिसके जरिए समुद्र से मार की जा सके. रिपोर्ट कहती है कि पाकिस्तानी सरकार ने कभी आधिकारिक तौर पर नहीं बताया कि उसके पास कितने परमाणु हथियार है. रिपोर्ट का आकलन है कि पाकिस्तान के पास करीब 165 परमाणु हथियार हो सकते हैं.

    आर्म्स कंट्रोल डॉट ओआरजी के डेटा के मुताबिक भारत की बढ़ती सैन्य क्षमता का मुकाबला करने के लिए पाकिस्तान ने परमाण हथियारों की संख्या के बैरियर को तोड़ दिया है. इसके अलावा  अमेरिकी अधिकारियों द्वारा एक वर्ष पूर्व लगाए गए अनुमान से कहीं ज्यादा तेज रफ्तार से चीन अपने परमाण हथियार बढ़ा रहा है. अगले 6 वर्षों के भीतर चीन के पास 700 से ज्यादा न्यूक्लियर वेपन होंगे. ये संख्या 2030 तक 1 हजार का आंकड़ा भी पार कर सकती है.

    आर्म्स कंट्रोल डॉट ओआरजी के मुताबिक चीन के पास 356 न्यूक्लियर वेपन हैं. लेकिन एक साल पहले पेंटागन ने कहा था कि ये संख्या 200 से कम हो सकती है. तब पेंटागन ने अनुमान लगाया था कि ये संख्या इस साल के अंत तक दोगुनी यानी चार सौ तक हो सकती है.

    भारत के लिए चिंता की बात!
    वहीं भारत के पास 156 परमाण हथियार होने की बात कही गई है. रिपोर्ट में पाकिस्तान और चीन की बढ़ती परमाणु क्षमता को भारत के लिए खतरा बताया गया है. हालांकि रिपोर्ट यह भी कहती है कि अग्नि-5 मिसाइल की लॉन्चिंग और परमाणु पनडुब्बियों को कमीशन करने के बाद बाद भारत पूरी तरह से आत्मविश्वास से भरा हुआ है. बीते कुछ वर्षों के दौरान भारत ने अपनी सैन्य ताकत में तेजी के साथ इजाफा किया है.

    भारत भी तेजी से बढ़ा रहा है अपनी सैन्य शक्ति
    इस दौरान भारत में देश के भीतर हथियार बनाए को बढ़ावा दिया गया है. बता दें कि इस साल मई महीने में चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग ने देश के सशस्‍त्र बलों को सैनिकों की ट्रेनिंग मजबूत करने का आदेश दिया था. इसके साथ ही उन्‍होंने कोरोनो वायरस महामारी के चीन की राष्‍ट्रीय सुरक्षा पर पड़ रहे सीधे प्रभाव से निपटने को तैयार रहने को कहा था. इसी के बाद से चीन लगातार अपनी सैन्य क्षमताओं को बढ़ाने के लिए कई नए हथियारों की लॉन्चिंग भी कर चुका है.

    Tags: India china, India pakistan, Nuclear weapon

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर