Home /News /nation /

Omicron का खतरा! भारत में 15 दिसंबर से नहीं शुरू होंगी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें, टला फैसला

Omicron का खतरा! भारत में 15 दिसंबर से नहीं शुरू होंगी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें, टला फैसला

15 दिसंबर से शुरू नहीं होंगी सामान्य अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें. (File pic)

15 दिसंबर से शुरू नहीं होंगी सामान्य अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें. (File pic)

Resumption of Regular International Flights: मंत्रालय ने एक आदेश जारी कर कहा कि वह वाणिज्यिक अंतरराष्ट्रीय यात्री एयरलाइन सेवाओं को फिर से शुरू करने की तारीख के अपने फैसले पर एक बार फिर से विचार करेगा. मंत्रालय ने कहा है कि यह फैसला उसने कोरोना वायरस के उभरते नए वेरिएंट के चलते लिया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Coronavirus Omicron Variant) के बढ़ते खतरे को देखते हुए भारत सरकार ने 15 दिसंबर से सामान्य अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू करने के अपने फैसले को टाल दिया है. डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन ने बुधवार को यह जानकारी दी. डीजीसीए ने एक आदेश जारी कर कहा कि वह वाणिज्यिक अंतरराष्ट्रीय यात्री एयरलाइन सेवाओं (Commercial International Flights) को फिर से शुरू करने की तारीख के अपने फैसले पर एक बार फिर से विचार करेगा. डीजीसीए ने कहा है कि यह फैसला उसने कोरोना वायरस के उभरते नए वेरिएंट के चलते लिया है. हालांकि फ्लाइट्स का सामान्य संचालन कब से शुरू होगा डीजीसीए की ओर से फिलहाल इसकी कोई जानकारी नहीं दी गई है.

    बता दें नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने 26 नवंबर को आदेश जारी कर कहा था कि भारत आने-जाने वाली सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें 15 दिसंबर से सामान्य रूप से संचालित होंगी. लेकिन दुनिया भर में लगातार बढ़ रहे ओमिक्रॉन वेरिएंट के खौफ के चलते भारत सरकार ने अपने फैसले को टाल दिया है. इसके साथ ही केंद्र सरकार ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों से भारत आ रहे लोगों के लिए दिशानिर्देश भी जारी किए हैं जो कि 1 दिसंबर की मध्यरात्रि से लागू हो गए हैं.

    ये भी पढ़ें- थकान-सिरदर्द के मरीजों से मिला संकेत, पढ़ें ओमिक्रॉन के पकड़ में आने की कहानी

    भारत सरकार ने जारी किए हैं नए दिशा निर्देश
    स्वास्थ्य मंत्रालय के संशोधित दिशा-निर्देशों के मुताबिक, जोखिम श्रेणी वाले देशों से आने वाले या उन देशों से होकर भारत पहुंचने वाले यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर जांच अनिवार्य कर दी गई है. साथ ही तब तक यात्री को हवाई अड्डा छोड़ने या कनेक्टिंग उड़ान में सवार होने की अनुमति नहीं दी जाएगी, जब तक नमूने की जांच के नतीजे प्राप्त नहीं हो जाते.

    मंत्रालय ने कहा कि ‘जोखिम’ श्रेणी वाले देशों के अलावा अन्य देशों से आने वाले लोगों को हवाई अड्डे से जाने की अनुमति रहेगी, हालांकि ऐसे यात्रियों को भी 14 दिन तक स्वयं अपने स्वास्थ्य की निगरानी करनी होगी.

    ये भी पढ़ें- Exclusive: Omicron Variant को लेकर रेलवे सतर्क, सभी जोन को कड़े आदेश जारी, बताया- वेरिएंट पीड़ित मरीज मिले तो क्‍या करें

    मंत्रालय ने कहा कि अन्य देशों से आने वाले यात्रियों में से पांच फीसदी की जांच की जाएगी और संबंधित विमानन कंपनी को प्रत्येक उड़ान से आने वाले उन पांच फीसदी लोगों की पहचान करनी होगी, जिनका परीक्षण किया जाना चाहिए. हालांकि, इनके नमूने की जांच का खर्च मंत्रालय वहन करेगा.

    गौरतलब है कि भारत आने-जाने वाली सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें कोविड-19 महामारी के कारण 23 मार्च, 2020 से ही बंद हैं. हालांकि, पिछले साल जुलाई से करीब 28 देशों के साथ हुए एयर बबल समझौते के तहत विशेष अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानें संचालित हो रही हैं.

    Tags: International flights, Omicron variant

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर