Home /News /nation /

भारत में डेल्टा की तरह कहर नहीं ढाएगा ओमिक्रॉन, जानें क्या बोले टॉप एक्सपर्ट

भारत में डेल्टा की तरह कहर नहीं ढाएगा ओमिक्रॉन, जानें क्या बोले टॉप एक्सपर्ट

गुजरात के एक अस्पताल में ओमिक्रॉन का वार्ड. (तस्वीर-AP)

गुजरात के एक अस्पताल में ओमिक्रॉन का वार्ड. (तस्वीर-AP)

Omicron Update: डॉ. शाहिद जमील का कहना है कि अभी ये कहना जल्दबाजी होगी लेकिन अगर आप डेल्टा के भारत में बढ़ने की रफ्तार की तुलना ओमिक्रॉन से करें तो स्थितियां अलग नजर आएंगी. जब भारत में डेल्टा वेरिएंट का उभार तब बहुत कम लोगों का वैक्सीनेशन हुआ था. हालांकि ओमिक्रॉन की संक्रामक क्षमता को देखते हुए देश में संक्रमण की रफ्तार बेहद तेजी के साथ बढ़ने का खतरा है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. दुनियाभर में ओमिक्रॉन (Omicron) के खतरे के बीच टॉप वायरोलॉजिस्ट (Top Virologist) का कहना है कि देश में नए वेरिएंट का असर डेल्टा जैसा घातक नहीं होगा. डॉ. शाहिद जमील (Dr Shahid Jameel) का कहना है कि ओमिक्रॉन की संक्रामक क्षमता को देखते हुए देश में संक्रमण की रफ्तार बेहद तेजी के साथ बढ़ने का खतरा है. डॉ. जमील ने कहा, ‘भारत में दिसंबर का महीना का बीते मार्च महीने से भिन्न होगा.’

    समाचार एजेंसी आईएएनएस से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘दूसरी लहर में भारत में संक्रमितों की संख्या बहुत ज्यादा हो गई थी. वहीं वैक्सीनेशन के आंकड़े तब काफी कम थे. तब हम में से बहुत सारे लोग वायरस के संक्रमण की चपेट में भी आ गए थे.’

    उन्होंने कहा, ‘अभी ये कहना जल्दबाजी होगी, लेकिन अगर आप डेल्टा के भारत में बढ़ने की रफ्तार की तुलना ओमिक्रॉन से करें तो स्थितियां अलग नजर आएंगी. जब भारत में डेल्टा वेरिएंट का उभार तब बहुत कम लोगों का वैक्सीनेशन हुआ था.’

    ये भी पढ़ें: 1971 के युद्ध में भारत ने पाकिस्तान को दी थी पटखनी, तस्वीरों में देखें 50 साल पुरानी विजय गाथा

    दुनिया के 77 देशों में फैल चुका है ओमिक्रॉन
    कोरोना का नया ओमिक्रॉन वेरिएंट अब तक दुनिया के करीब 77 देशों में फैल चुका है. अपने पूर्ववर्ती डेल्टा वेरिएंट से भी ज्यादा संक्रामक बताए जाए रहे इस वेरिएंट के केस अमेरिका के 35 राज्यों में मिल चुके हैं. इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी आशंका जाहिर की है कि ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों के मद्देनजर दुनिया में हॉस्पिटलाइजेशन और मौतों की संख्या में इजाफा हो सकता है.

    एक अमेरिकी अधिकारी के मुताबिक देश में ओमिक्रॉन की वजह से अगले महीने तक नई लहर आने की आशंका है. वहीं यूरोपीय कमीशन की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन ने बुधवार को कहा कि मध्य जनवरी तक यूरोप में ओमिक्रॉन प्रभावी वेरिएंट बन सकता है. इस वक्त यूरोप में कोरोना का डेल्टा वेरिएंट ही प्रभावी है.

    चीन में भी मिलने लगे हैं मामले
    दूसरी तरफ चीन में भी इस सप्ताह ओमिक्रॉन के मामले मिलना शुरू हो गए हैं. WHO के अधिकारियों का कहना है कि ओमिक्रॉन के कारण अफ्रीका में बीते सप्ताह में कोरोना मामलों में 83 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी गई है.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर