SAARC: सुषमा स्‍वराज ने उठाया था आतंक का मुद्दा, फिर आमने-सामने होंगे भारत-पाक

भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह मोहम्मद कुरैशी ने शनिवार को बैठक में शामिल होने की पुष्टि की है.

भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर (External Affairs Minister S Jaishankar) और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह मोहम्मद कुरैशी (Shah Mahmood Qureshi) ने शनिवार को बैठक में शामिल होने की पुष्टि की है.

  • Share this:
    न्‍यूयॉक में 26 सितंबर को सार्क देशों (SAARC) की बैठक में भारत और पाकिस्‍तान (India and Pakistan) के विदेश मंत्री आमने-सामने होंगे. भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर (External Affairs Minister S Jaishankar) और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mahmood Qureshi) ने शनिवार को बैठक में शामिल होने की पुष्टि की है. पिछले साल सार्क देशों की बैठक में तत्‍कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने आतंकवाद का मुद्दा उठाया था.

    बता दें कि पिछले साल सितंबर माह में तत्‍कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने न्यूयॉर्क में SAARC मीटिंग के दौरान अपने भाषण में आतंकवाद के खात्मे के लिए एक साथ काम करने की बात पर जोर दिया था. उन्होंने कहा था कि लोगों के आर्थिक विकास, प्रगति और क्षेत्रीय सहयोग के लिए शांति और सुरक्षा का माहौल बेहद ज़रूरी है.

    आतंकवाद पर पाकिस्तान को घेरा था
    पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए स्वराज ने कहा था, 'हमारे क्षेत्र में शांति और स्थिरता के लिए आतंकवाद इकलौता सबसे बड़ा खतरा है. यह ज़रूरी है कि आतंकवाद को जड़ से उखाड़ने के लिए बिना किसी भेदभाव के समर्थन किया जाए.'

    वहीं, पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से सुषमा स्वराज की मुलाकात नहीं हुई थी. SAARC में स्टेटमेंट देने के बाद सुषमा स्वराज वहां से चली गईं थी और उन्होंने कुरैशी के स्टेटमेंट का इंतज़ार नहीं किया. इसपर पाकिस्तान के विदेश मंत्री महमूद कुरैशी ने आपत्ति भी जताई थी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.