जम्मू-कश्मीर में स्थापित की जाएगी अलग 'थिएटर कमान' : CDS जनरल रावत

जम्मू-कश्मीर में स्थापित की जाएगी अलग 'थिएटर कमान' : CDS जनरल रावत
सीढीएस जनरल रावत ने कहा कि वायु रक्षा कमान अगले साल की शुरुआत में और 'पेनिसुलर कमान' 2021 के अंत तक शुरू की जाएगी.

जनरल रावत ने कहा कि स्वदेश निर्मित विमान वाहक पोत के प्रदर्शन का आकलन करने के बाद नौसेना की तीसरे विमान वाहक पोत की मांग पर गौर किया जाएगा. नौसेना के लिए विमान वाहक पोत की तुलना में पनडुब्बियां प्राथमिकता हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (CDS) जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) ने सोमवार को कहा कि भारत जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में अलग 'थिएटर कमान' स्थापित करने की योजना बना रहा है. जनरल रावत ने चुनिंदा पत्रकारों के एक समूह से कहा कि वायु रक्षा कमान अगले साल की शुरुआत में और 'पेनिसुलर कमान' 2021 के अंत तक शुरू की जाएगी.

उन्होंने आगे कहा कि भारतीय वायु सेना, भारतीय वायु रक्षा कमान के अधीन आएगी. लंबी दूरी की सभी मिसाइलें (Missile) और वायु रक्षा से जुड़ी संपत्ति इसके दायरे में आएंगी. भारत जम्मू-कश्मीर में अलग 'थिएटर कमान' स्थापित करने की योजना बना रहा है. भारतीय नौसेना की पूर्वी और पश्चिमी कमान का विलय 'पेनिसुलर कमान' में किया जाएगा.' प्रमुख रक्षा अध्यक्ष ने कहा कि 'भारत के पास अलग प्रशिक्षण और सैद्धांतिक कमान 'लॉजिस्टिक्स' कमान भी होगी.'

उन्होंने 114 लड़ाकू विमानों सहित बड़े सौदों की क्रमबद्ध तरीके से खरीदारी की नीति का भी समर्थन किया. जनरल रावत ने कहा कि स्वदेश निर्मित विमान वाहक पोत के प्रदर्शन का आकलन करने के बाद नौसेना की तीसरे विमान वाहक पोत की मांग पर गौर किया जाएगा. नौसेना के लिए विमान वाहक पोत की तुलना में पनडुब्बियां प्राथमिकता हैं.



ये भी पढ़ें - पश्चिम बंगाल के मदरसों में आखिर क्यों रिकॉर्ड संख्या में बढ़े हिंदू छात्र?
          IGNOU Admissions 2020: इग्नु ने बढ़ाई एडमिशन की डेट, 28 फरवरी तक करें अप्लाई

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading