लाइव टीवी

2024 तक 35,000 करोड़ रुपये पहुंच सकता है रक्षा निर्यात: राजनाथ सिंह

भाषा
Updated: February 27, 2020, 7:22 PM IST
2024 तक 35,000 करोड़ रुपये पहुंच सकता है रक्षा निर्यात: राजनाथ सिंह
राजनाथ सिंह ने कहा पिछले दो साल में हमारा निर्यात 17,000 करोड़ रुपये रहा है (News18)

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) ने यह भी कहा कि भारत 2030 तक तीन बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल होगा और रक्षा उद्योग को इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है.

  • Share this:
बेंगलुरू. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) ने गुरुवार को कहा कि देश से सालाना रक्षा निर्यात 2024 तक 35,000 करोड़ रुपये पर पहुंच जाने का अनुमान है. फिलहाल यह 17,000 करोड़ रुपये है.

सिंह ने यह भी कहा कि भारत 2030 तक तीन बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल होगा और रक्षा उद्योग को इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है. उन्होंने हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लि. (एचएएल) के राज्योत्सव कार्यक्रम में कहा, ‘‘भारत का रक्षा निर्यात बढ़ रहा है. पिछले दो साल में हमारा निर्यात 17,000 करोड़ रुपये रहा है लेकिन आपकी (एचएएल) क्षमता को देखते हुए, मैं कह सकता हूं कि 2024 तक यह 35,000 करोड़ रुपये तक पहुंच सकता है.

लंबे समय से आयात पर निर्भर नहीं रह सकता भारत
रक्षा मंत्री ने कहा, ‘‘मुझे इसको लेकर पूरा भरोसा है.’’ उन्होंने वहां मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत लंबे समय तक आयात पर निर्भर नहीं रह सकता और भारतीय कंपनियों खासकर सार्वजनिक क्षेत्र की रक्षा कंपनियों को ‘मेक इन इंडिया’ के लक्ष्य को हासिल करने को बड़ी भूमिका निभानी है. सिंह ने कहा, ‘‘हम नहीं चाहते कि भारत आयातक देश बना रहे. आपकी क्षमता के आधार मैं कह सकता हूं कि भारत निश्चित रूप से निर्यातक देश बनेगा.’’



इस संदर्भ में उन्होंने सार्वजनिक क्षेत्र की रक्षा कंपनियों की सराहना की जिनका परिचालन और वित्त के मोर्चे पर प्रदर्शन बेहतर रहा है. सिंह ने कहा, ‘‘मार्च 2019 तक कंपनी का कारोबार 19,705 करोड़ रुपये था और एचएएल ने 198 प्रतिशत का अच्छा लाभांश दिया.’’

दिल्ली में सामान्य हो रहे हालात
केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हिंसा प्रभावित दिल्ली में अब हालात सामान्य हो रहे हैं. कार्यक्रम से हटकर पत्रकारों से सिंह ने कहा, ‘‘दिल्ली में स्थिति अब सामान्य हो रही है.’’

विवादित नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शनों के बाद राष्ट्रीय राजधानी में दंगों में मरने वालों की संख्या में हुए इजाफे को लेकर सिंह से सवाल पूछा गया था. रक्षा मंत्री ने हालांकि दिल्ली में सामान्य हालात बहाल करने के लिए सेना बुलाए जाने की दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मांग पर पूछे गए सवाल का जवाब नहीं दिया.

केजरीवाल ने बुधवार को कहा था कि तमाम प्रयासों के बावजूद उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसा पर पुलिस नियंत्रण नहीं कर पा रही है इसलिए अब सेना को बुलाया जाना चाहिए.

दिल्ली में सांप्रदायिक हिंसा में मरने वालों की संख्या गुरुवार को बढ़कर 37 हो गई है.

ये भी पढ़ें-
दिल्ली पुलिस की 'निष्क्रियता' वैसी ही है जैसी 1984 में देखी थी: अकाली दल सांसद

दिल्‍ली हिंसा: भारत ने गैर-जिम्‍मेदाराना बयान पर इस्‍लामिक संगठन को लताड़ा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 27, 2020, 7:22 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर