• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • चीन को साधने के लिए अब 3 देशों का नया गठबंधन, भारत बोला- क्‍वाड का अधिक महत्‍व

चीन को साधने के लिए अब 3 देशों का नया गठबंधन, भारत बोला- क्‍वाड का अधिक महत्‍व

क्‍वाड को भारत ने बताया अधिक महत्‍वपूर्ण. (File pic)

क्‍वाड को भारत ने बताया अधिक महत्‍वपूर्ण. (File pic)

China: नए गठबंधन के माध्यम से अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया हिन्द प्रशांत क्षेत्र में अपने रक्षा हितों का ध्यान रखेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्‍ली. हिन्द प्रशांत क्षेत्र में क्‍वाड (Quad) की तर्ज पर अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया ने एक नए गठबंधन की घोषणा की है. नए गठबंधन का नाम एयूकेयूएस होगा. नए गठबंधन का मकसद चीन (China) को साधने के लिए माना जा रहा है. इस गठबंधन ने अपने पहले कदम की घोषणा करते हुए कहा है कि ऑस्ट्रेलिया को न्यूक्लियर सबमरीन के विकास में मदद की जाएगी.

नए गठबंधन के माध्यम से तीनों देश हिन्द प्रशांत क्षेत्र में अपने रक्षा हितों का ध्यान रखेंगे. इसके अलावा सूचना और तकनीक को भी साझा किया जाएगा. क्‍वाड की बैठक से पहले नए गठबंधन की घोषणा की गई है. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन, ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की तरफ से संयुक्त बयान में नए गठबंधन की घोषणा की गई है. एयूकेयूएस के गठन के पीछे हिन्द प्रशांत क्षेत्र में शांति और स्थायित्व बताया गया है.

क्या कहना है भारतीय विदेश मंत्रालय का?
विदेश मंत्रालय ने एयूकेयूएस पर सीधे किसी तरह की प्रतिक्रिया देने से इनकार किया है. लेकिन विदेश मंत्रालय की ब्रीफ़िंग में एयूकेयूएस के गठन से क्‍वाड के फीका होने से जुड़े सवाल पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि क्‍वाड का अपना महत्व है.

दरअसल क्‍वाड की बैठक इसी महीने की 24 तारीख को वाशिंगटन डीसी में होगी. बैठक में अमेरिका, भारत, ऑस्ट्रेलिया और जापान हिस्सा लेंगे. चारों देश क्वाड के सदस्य हैं. ऐसे में क्‍वाड के लीडर्स सम्मेलन से पहले एयूकेयूएस के गठन से ये भी सवाल उठा है कि कहीं इस पूरी क़वायद से क्‍वाड कमजोर तो नहीं होगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज