होम /न्यूज /राष्ट्र /और कितनी फजीहत कराएगा पाक? UNGA में पाकिस्तान ने फिर अलापा कश्मीर राग, भारत ने ऐसे दिया मुंहतोड़ जवाब

और कितनी फजीहत कराएगा पाक? UNGA में पाकिस्तान ने फिर अलापा कश्मीर राग, भारत ने ऐसे दिया मुंहतोड़ जवाब

UNGA में कश्मीर राग अलापने पर पाकिस्तान को भारत ने लगाई कड़ी फटकार

UNGA में कश्मीर राग अलापने पर पाकिस्तान को भारत ने लगाई कड़ी फटकार

India Pakistan News: संयुक्त राष्ट्र में भारत की स्थायी प्रतिनिधि रुचिरा कंबोज ने कड़े शब्दों में कहा कि एक बार फिर से ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली: अंतरराष्ट्रीय मंचों पर बार-बार मुंह की खाने वाला पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. संयुक्त राष्ट्र महासभा में एक बार फिर से पाकिस्तान ने कश्मीर राग अलापा है. रूस पर संयुक्त राष्ट्र महासभा की बहस के दौरान कश्मीर मुद्दा उठाने के बाद भारत ने बुधवार को पाकिस्तान को करारा जवाब दिया. दरअसल, रूस-यूक्रेन युद्ध के संबंध में यूएनजीए में वोटिंग पर बहस के दौरान अपने स्पष्टीकरण में पाकिस्तानी राजनयिक मुनीर अकरम ने कश्मीर का मुद्दा उठाया.

इसके बाद भारत ने पाकिस्तान के इस हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया और इसकी टिप्पणी को प्वाइंटलेस बताया. संयुक्त राष्ट्र में भारत की स्थायी प्रतिनिधि रुचिरा कंबोज ने कड़े शब्दों में कहा कि पाकिस्तान ने दो स्थितियों को एक ही जैसा दिखाने की कोशिश की है. हमने देखा है कि आश्चर्यजनक रूप से एक बार फिर एक प्रतिनिधिमंडल द्वारा इस मंच का दुरुपयोग करने और मेरे देश के खिलाफ बेकार और व्यर्थ टिप्पणी करने का प्रयास किया गया. भारतीय राजनयिक ने कहा कि पाकिस्तान बार-बार झूठ बोलता है और उसका यह बयान सामूहिक अवमानना ​​का पात्र है.

रूस-यूक्रेन युद्ध के संबंध में यूएनजीए में वोटिंग से दूर रहने के अपने स्पष्टीकरण में संयुक्त राष्ट्र में भारत की स्थायी प्रतिनिधि रुचिरा कंबोज ने कहा, ‘जम्मू और कश्मीर का पूरा क्षेत्र हमेशा भारत का अभिन्न अंग है और रहेगा … हम पाकिस्तान से सीमा पार आतंकवाद को रोकने का आह्वान करते हैं ताकि हमारे नागरिक अपने जीवन और स्वतंत्रता के अधिकार का आनंद ले सकें.’

बता दें कि इससे पहले यूएनजीए यानी संयुक्त राष्ट्र महासभा ने बुधवार को चार यूक्रेनी क्षेत्रों के रूसी कब्जे की निंदा करते हुए एक प्रस्ताव पारित किया. इस प्रस्ताव के पक्ष में 143 सदस्यों ने मतदान किया जबकि पांच ने विरोध में वोट दिया. वहीं, भारत सहित 35 देशों ने मतदान में भाग लेने से परहेज किया. यह प्रस्ताव रूस द्वारा सुरक्षा परिषद में इसी तरह के एक प्रस्ताव को वीटो करने के कुछ दिनों बाद आया है, उस प्रस्ताव से भी भारत ने परहेज किया था.

हालांकि, रूस की निंदा करने वाले संयुक्त राष्ट्र महासभा के प्रस्ताव से खुद को दूर रखने के बाद भारत ने बुधवार को यूक्रेन में संघर्ष के बढ़ने पर गहरी चिंता व्यक्त की, जिसमें नागरिक बुनियादी ढांचे को निशाना बनाना और नागरिकों की मौत शामिल है. यूएनजीए में सदस्य देशों के समक्ष वोटिंग को लेकर अपना स्पष्टीकरण देते हुए राजदूत कंबोज ने कहा कि भारत ने लगातार इस बात की वकालत की है कि मानवीय कीमत पर कोई समाधान नहीं किया जा सकता है और शत्रुता को बढ़ाना किसी के हित में नहीं है. उन्होंने तत्काल युद्ध और दुश्मनी समाप्त करने की वकालत की.

Tags: India news, India pakistan, UNGA

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें