अपना शहर चुनें

States

भारत-श्रीलंका-मालदीव समुद्री सुरक्षा सम्मेलन में हिस्सा लेने कल कोलंबो जाएंगे डोभाल

यह डोभाल की साल 2020 में श्रीलंका की दूसरी आधिकारिक यात्रा होगी.  (File Photo)
यह डोभाल की साल 2020 में श्रीलंका की दूसरी आधिकारिक यात्रा होगी. (File Photo)

यह बैठक छह साल बाद हो रही है. इससे पहले आखिरी बैठक 2014 में नयी दिल्ली में हुई थी. इसके पहले तीनों देशों के आला सुरक्षा अधिकारियों की बैठक मालदीव में 2011 में, श्रीलंका में 2013 में और भारत में 2014 में आयोजित हुई थी.

  • भाषा
  • Last Updated: November 26, 2020, 11:08 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल (National Security Advisor Ajit Doval) भारत, श्रीलंका और मालदीव (India, Srilanka & Maldives) के बीच त्रिपक्षीय समुद्री सुरक्षा सहयोग सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिये शुक्रवार को दो दिन की यात्रा पर कोलंबो (Colombo) जाएंगे. विदेश मंत्रालय ने बताया कि डोभाल पड़ोसी देश श्रीलंका की यात्रा पर जाएंगे. मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि डोभाल श्रीलंका के रक्षा मंत्रालय (Ministry of Defence) के सचिव मेजर जनरल (सेवानिवृत) कमल गुणारत्ने (Major General (Ret.) Kamal Gunaratne) के निमंत्रण पर एनएसए स्तर के चौथे त्रिपक्षीय समुद्री सुरक्षा सहयोग सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिये कोलंबो जाएंगे.

बयान में कहा गया है, 'एनएसए स्तरीय त्रिपक्षीय सम्मेलन हिंद महासागरीय देशों के बीच सहयोग के लिये एक प्रभावी मंच साबित हुआ है.' मालदीव की रक्षा मंत्री मारिया दीदी सम्मेलन में मालदीव का प्रतिनिधित्व करेंगी. बयान के अनुसार, 'बैठक में हिंद महासागर क्षेत्र में समुद्री सुरक्षा सहयोग से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की जाएगी.' सम्मेलन से इतर डोभाल अन्य उच्च स्तरीय द्विपक्षीय बैठकों में भी हिस्सा ले सकते हैं.

ये भी पढ़ें- ममता बनर्जी ने BJP को बताया बाहरी लोगों की पार्टी, कहा-ऐसा गृहमंत्री नहीं देखा



दो दिन का है दौरा
वहीं इस संबंध में श्रीलंका के सैन्य प्रवक्ता ब्रिगेडियर चंदना विक्रमसिंघा ने कहा कि श्रीलंका 27 और 28 नवंबर को भारत और मालदीव के साथ समुद्री सुरक्षा सहयोग पर चौथी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार त्रिपक्षीय बैठक की मेजबानी करेगा. सेना ने कहा कि बांग्लादेश, मॉरीशस और सेशेल्स से पर्यवेक्षक मौजूद रहेंगे.

यह बैठक छह साल बाद हो रही है. इससे पहले आखिरी बैठक 2014 में नयी दिल्ली में हुई थी. इसके पहले तीनों देशों के आला सुरक्षा अधिकारियों की बैठक मालदीव में 2011 में, श्रीलंका में 2013 में और भारत में 2014 में आयोजित हुई थी.

ये भी पढ़ें- किसान आंदोलन के कारण एयरपोर्ट न पहुंच पाने वाले यात्रियों को एयर इंडिया ने दिया खास ऑफर

यह डोभाल की साल 2020 में श्रीलंका की दूसरी आधिकारिक यात्रा होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज