देश में जल्द हो सकती है कोविड हेल्थ पासपोर्ट की शुरुआत, जानें कैसे करेगा काम और क्या है फायदा

कोरोना वायरस की वजह से मरे एक डॉक्टर के चारो ओर सुरक्षा ड्रेस के साथ खड़े लोग। (रॉयटर्स)

कोरोना वायरस की वजह से मरे एक डॉक्टर के चारो ओर सुरक्षा ड्रेस के साथ खड़े लोग। (रॉयटर्स)

Covid Health Passport: इस टेस्ट मशीन को वाकथ्रू ऋषभ शर्मा ने टेलीकॉम मिनिस्ट्री की विंग आईटीआई के साथ मिलकर तैयार किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2021, 7:35 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. केंद्र सरकार जल्द ही कोविड हेल्थ पासपोर्ट की शुरुआत कर सकती है. इस संबंध में टेलीकॉम मंत्रालय ने एक स्टार्ट अप के साथ हाथ मिलाया है. इस पासपोर्ट को आर्टिफिशियल इंटीलेंस और ब्लॉक चेन टेक्नोलॉजी के ज़रिए तैयार किया जा रहा है. इसमें कोई पासपोर्ट की हार्ड कॉपी नहीं होगी, बल्कि आपका हेल्थ रिकॉर्ड का डेटा आधार से जुड़ा होगा.



ब्लॉक चेन वो टेक्नोलॉजी है जिसकी मान्यता पूरी दुनिया में है और इस पर डाले गए डॉक्यूमेंट पर सवाल नहीं होता है. साथ ही, इस स्टार्ट अप ने एक ऐसी मशीन बनाई है जो छोटी सी टेबल जितनी जगह लेती है और लगभग 50 तरह के टेस्ट कर सकती है. डेटा रियल टाइम में आता है. टेलीकॉम मिनिस्ट्री की जो बेंगलुरु में आईटीआई विंग है वहां डेटा सेव होता है और परिणाम मिनटों में आपके सामने होता है.



Youtube Video


इस टेस्ट मशीन को वाकथ्रू ऋषभ शर्मा ने टेलीकॉम मिनिस्ट्री की विंग आईटीआई के साथ मिलकर तैयार किया है. हेल्थ पासपोर्ट के लिए एक ऐप इसी महीने लांच होगा. ऐप में यात्री के हेल्थ पासपोर्ट की एक इलेक्ट्रॉनिक कॉपी उपलब्ध होगी जिससे यात्रियों को विदेश यात्रा करने में स्वास्थ्य संबंधी सहूलियत मिलेगी.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज