• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • रूस की कोरोना वायरस वैक्सीन के ट्रायल पर भारत में लगी रोक

रूस की कोरोना वायरस वैक्सीन के ट्रायल पर भारत में लगी रोक

भारत बायोटेक को तीसरे चरण के ट्रायल की मंजूरी मिल गई है (सांकेतिक तस्वीर)

भारत बायोटेक को तीसरे चरण के ट्रायल की मंजूरी मिल गई है (सांकेतिक तस्वीर)

भारतीय ड्रग रेगुलेटर ने वह प्रस्ताव वापस ले लिया है, जिसमें रूस की कोरोना वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) स्‍पूतनिक-वी-कोविड-19 (Sputnik-V-Covid-19) का परीक्षण भारत में किया जाना था.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय ड्रग रेगुलेटर ने वह प्रस्ताव वापस ले लिया है, जिसमें रूस की कोरोना वैक्सीन  (Coronavirus Vaccine) स्‍पूतनिक-वी-कोविड-19 (Sputnik-V-Covid-19) का परीक्षण भारत में किया जाना था. भारत में डॉक्टर रेड्डी लैबोरेट्रीज लिमिटेड को वैक्सीन परीक्षण करना था. इसमें वैक्सीन का पहले छोटे चरण में प्रयोग करके देखना था. सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन (CDSCO) ने नोटिस जारी किया है कि विदेश में शुरुआती चरण की स्टडी में सुरक्षा और प्रतिरक्षा का डाटा काफी छोटा था. भारतीय प्रतिभागियों पर कोई इनपुट उपलब्ध नहीं है. भारत में पूरा ट्रायल कैसा रहता है, उससे पहले ही रूस की पूरी योजना को एक तगड़ा झटका लगा है. औसत नए संक्रमितों के बारे में जानकारी के लिए इस स्टडी के अप्रूवल से डाटा की जानकारी प्राप्त करनी थी.

भारत विश्व में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमितों के मामले में अगले कुछ सप्ताह में अमेरिका से भी आगे निकल सकता है. इस तरह की आशंकाएं विशेषज्ञों ने जताई है. रूस की डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड (RDIF) इस वैक्सीन की मार्केटिंग कर रही है. इस संस्थान ने भारत की डॉक्टर रेड्डी लैबोरेट्रीज से पिछले महीने क्लिनिकल ट्रायल कर भारत में वैक्सीन देने की योजना के तहत पार्टनरशिप की थी.

रूस कोरोना वायरस वैक्सीन के लिए मंजूरी देने वाला पहला देश था. बड़े स्तर पर ट्रायल होने से पहले ही ऐसा किया गया था. इसकी सुरक्षा और प्रभाव के बारे में डॉक्टर और वैज्ञानिक चिंतित थे. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने दोनों भागीदार कंपनियों से बात करने की कोशिश की लेकिन बिजनेस आवर्स में उन्होंने जवाब देने से मना कर दिया.

गौरतलब है कि भारत में बनी तीन वैक्सीन फ़िलहाल ट्रायल के दौर से गुजर रही हैं. पुणे के सीरम इंस्‍टीट्यूट ने एस्ट्राजेनेका से ऑक्सफ़ोर्ड COVID 19 वैक्सीन के लिए साझेदारी की है. इसमें दूसरे और तीसरे चरण के ट्रायल चल रहे हैं. ICMR के साथ भारत बायोटेक और जाइडस कैडिला लिमिटेड की वैक्सीन मानव चरण के दूसरे दौर में है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज