Home /News /nation /

सतह से हवा में मार करने वाली कम दूरी की मिसाइल VL-SRSAM का सफल परीक्षण, DRDO ने किया विकसित

सतह से हवा में मार करने वाली कम दूरी की मिसाइल VL-SRSAM का सफल परीक्षण, DRDO ने किया विकसित

डीआरडीओ ने VL-SRSAM मिसाइल का सफल परीक्षण 
किया. (सांकेतिक तस्वीर)

डीआरडीओ ने VL-SRSAM मिसाइल का सफल परीक्षण किया. (सांकेतिक तस्वीर)

India successfully test-fired Air Missile (VL-SRSAM): भारत ने कम दूरी की सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल VL-SRSAM का सफल परीक्षण किया है. डीआरडीओ द्वारा विकसित इस मिसाइल को ओडिशा के तट से छोड़ा गया. यह मिसाइल 15 किलोमीटर दूर अपने लक्ष्य को भेद सकती है. डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन ने इस मिसाइल को भारतीय नौसेना के वॉरशिप के लिए तैयार किया है.

अधिक पढ़ें ...

    भुवनेश्वर: रक्षा क्षेत्र (Defense Sector)  में देश ने एक और कामयाबी हासिल की है. भारत ने कम दूरी की सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल VL-SRSAM का सफल परीक्षण किया है. डीआरडीओ (DRDO) द्वारा विकसित इस मिसाइल को ओडिशा के तट से छोड़ा गया. यह मिसाइल (Missile) 15 किलोमीटर दूर अपने लक्ष्य को भेद सकती है. डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन ने इस मिसाइल को भारतीय नौसेना (Indian Navy) के वॉरशिप के लिए तैयार किया है. डीआरडीओ के अधिकारी ने इस मिसाइल के परीक्षण की जानकारी दी.

    न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन द्वारा विकसित कम दूरी की सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल VL-SRSAM को ओडिशा के तट से छोड़ा गया. यह एयर डिफेंस सिस्टम 15 किलोमीटर दूर स्थित अपने टारगेट को भेद सकती है.

    रक्षा क्षेत्र में भारत लगातार नई रिसर्च और टेक्नोलॉजी पर काम कर रहा है. इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने रविवार को कहा था कि भारत स्वदेशी ड्रोन टेक्नोलॉजी को विकसित कर रहा है ताकि सीमा पर दुश्मनों के द्वारा भेजे गए उपकरणों का पता लगाया जा सके. जल्द ही इसे सेना व सुरक्षबलों को सौंपा जाएगा.

    बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स के 57वें स्थापना दिवस समारोह पर केंदीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि, मोदी सरकार का मानना है कि सीमा की सुरक्षा से ही राष्ट्र की सुरक्षा होती है और हम अपने सुरक्षाबलों को विश्व की सबसे बेहतरीन बॉर्डर सिक्योरिटी टेक्नोलॉजी उलपब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

    केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कहा कि बॉर्डर सिक्योरिटी और नेशनल सिक्योरिटी के लिए मोदी सरकार प्रतिबद्ध है. सीमापार से ड्रोन के खतरे को ध्यान में रखते हुए बीएसएफ, डीआरडीओ और एनएसजी एंटी ड्रोन टेक्नोलॉजी को विकसित करने की दिशा में काम कर रहे हैं. मुझे पूरा विश्वास है कि हमारे वैज्ञानिक इस स्वदेशी एंटी ड्रोन टेक्नोलॉजी को विकसित करने में कामयाब होंगे.

    Tags: DRDO, Missile

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर