अक्टूबर तक भारत को मिल सकती हैं 5 वैक्सीन, स्पूतनिक V को 10 दिन में मंजूरी संभव: रिपोर्ट

रूसी वैक्सीन Sputnik V(फाइल फोटो)

रूसी वैक्सीन Sputnik V(फाइल फोटो)

Coronavirus Vaccine: सूत्रों का मानना है कि जून तक स्पूतनिक वैक्सीन उपलब्ध हो सकती है. इसके बाद जॉनसन एंड जॉनसन और जायडस कैडिला की वैक्सीन अगस्त तक, नोवावैक्स सितंबर तक और नसल वैक्सीन अक्टूबर तक उपलब्ध हो सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 11, 2021, 5:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. इस साल की तीसरी तिमाही के अंत तक, भारत को पांच अतिरिक्त निर्माताओं से कोविड -19 टीके प्राप्त होंगे. एएनआई ने शीर्ष सरकारी स्रोतों का हवाला देते हुए ये जानकारी दी है. भारत फिलहाल दो कोविड-19 वैक्सीन का निर्माण कर रहा है, कोविशील्ड और कोवैक्सीन, वहीं इस साल की तीसरी तिमाही के अंत तक भारत को पांच और वैक्सीन मिल सकती हैं. यह वैक्सीन हैं- डॉ रेड्डीज़ के सहयोग से तैयार हो रही स्पूतनिक V, बायोलॉजिकल ई के सहयोग से बन रही जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन, सीरम इंडिया के सहयोग से तैयार की जा रही नोवावैक्स वैक्सीन, जायडस कैडिला वैक्सीन और भारत बायोटेक की इंट्रानसल वैक्सीन.

सूत्रों ने बताया कि देश में किसी भी कोविड-19 वैक्सीन को आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण (EUA) प्रदान करते समय सुरक्षा और प्रभावकारिता केंद्र सरकार की प्राथमिक चिंताएं हैं. रिपोर्ट ने कहा गया है कि विभिन्न नैदानिक ​​और पूर्व नैदानिक ​​चरणों में लगभग 20 टीकों में से, स्पूतनिक V वैक्सीन को अगले 10 दिनों में मंजूरी मिल सकती है. CNN-News18 ने हाल ही में बताया था कि रूस की स्पूतनिक V वैक्सीन को भारत में बहुत जल्द अनुमति मिल सकती है.

ये भी पढ़ें- क्या ट्रेन में चढ़ने से पहले करवाना होगा कोरोना टेस्ट? जानें हर सवाल का जवाब

बता दें वैक्सीन निर्माण के लिए रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष (आरडीआईएफ) और हैदराबाद स्थित विरचो बायोटेक ने 20 करोड़ खुराक का उत्पादन करने के लिए एक समझौता किया है.  स्पूतनिक V भारत को वैक्सीन की 8.5 करोड़ खुराकें मुहैया कराएगा जिससे कि भारत में कोविड-19 से लड़ाई को बड़े स्तर पर बढ़ावा मिलेगा.
सूत्रों का मानना है कि जून तक स्पूतनिक वैक्सीन उपलब्ध हो सकती है. इसके बाद जॉनसन एंड जॉनसन और जायडस कैडिला की वैक्सीन अगस्त तक, नोवावैक्स सितंबर तक और नसल वैक्सीन अक्टूबर तक उपलब्ध हो सकती है.

सूत्र के अनुसार, सरकार अनुसंधान, उत्पादन और नैदानिक परीक्षण चरणों में किसी भी कोने में कटौती किए बिना प्रगति में तेजी लाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है.

यह खबर ऐसे समय आई है जबकि देश के कई राज्यों से वैक्सीन की कमी की खबरें सामने आ रही हैं.



अब तक इतने लोगों को दी जा चुकी है वैक्सीन

देश में फिलहाल 10 करोड़ लोगों को कोविड-19 वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है. स्वास्थ्य और कल्याण मंत्रालय ने कहा कि सुबह 7 बजे तक अनंतिम रिपोर्ट के अनुसार, कुल 10,15,95,147 वैक्सीन खुराक को 15,17,963 सत्रों के माध्यम से दी जा चुकी हैं.

ये भी पढ़ें- श्‍मशान घाट पर लाशों की बढ़ी भीड़, जल्दी अंतिम संस्कार के लिए मांगे जा रहे पैसे

इनमें 90,04,063 स्वास्थ्यकर्मी शामिल हैं, जिन्होंने पहली खुराक ली है और 55,08,289 स्वास्थ्यकर्मी हैं जिन्होंने दूसरी खुराक ली है. वहीं 99,53,615 अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ता हैं जिन्होंने पहली खुराक ली है, 47,59,209 फ्रंटलाइन वर्कर्स ने दूसरी खुराक ली है.



इसके अलावा, 60 वर्ष से अधिक के 3,96,51,630 और 18,00,206 लाभार्थियों को क्रमशः पहली और दूसरी खुराक दी गई है, जबकि 45 से 60 वर्ष की आयु के 3,02,76,653 और 6,41,482 लाभार्थियों ने क्रमशः पहली और दूसरी खुराक दी जा चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज