अपना शहर चुनें

States

हरदीप सिंह पुरी ने बताया- अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू करने से पहले भारत को किस बात का है इंतजार

केंद्रीय नागर विमानन मंत्री हरदीप पुरी की फाइल फोटो
केंद्रीय नागर विमानन मंत्री हरदीप पुरी की फाइल फोटो

पुरी ने ट्विटर (Twitter) पर कहा, “जैसे ही अन्य देशों द्वारा विदेशी नागरिकों (Foreign Nationals) को अपने यहां प्रवेश देने के नियमों में ढील दी जाएगी नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों (International Flights) को बहाल करने के बारे में फैसला किया जाएगा."

  • Share this:
नई दिल्ली. अन्य देशों द्वारा विदेशी नागरिकों (Foreign Nationals) को प्रवेश देने संबंधी नियमों में ढील दिये जाने के बाद भारत अंतरराष्ट्रीय उड़ानों (International Flights) को शुरू करने के बारे में फैसला लेगा. नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने रविवार को यह जानकारी दी. कोरोना वायरस महामारी के दौरान जापान और सिंगापुर जैसे देशों में विदेशियों के प्रवेश पर पाबंदी लगाई हुई है.

पुरी ने ट्विटर (Twitter) पर कहा, “जैसे ही अन्य देशों द्वारा विदेशी नागरिकों (Foreign Nationals) को अपने यहां प्रवेश देने के नियमों में ढील दी जाएगी नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ान को बहाल करने के बारे में फैसला किया जाएगा. गंतव्य देशों को आने वाली उड़ानों को मंजूरी देने के लिए तैयार होना चाहिए.” भारत में 25 मई से घरेलू यात्री उड़ानों को फिर से शुरू किया गया था. इससे पहले करीब दो महीने तक कोरोना वायरस को रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के कारण उड़ानों पर पाबंदी थी.

अधिकांश देशों में 10% से कम अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट्स का संचालन: मंत्री
मंत्री ने कहा, "अधिकांश देशों में 10 प्रतिशत से कम अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट्स का संचालन हो रहा है क्योंकि वे केवल अपने ही नागरिकों को प्रवेश की अनुमति दे रहे हैं और विदेशी नागरिकों पर प्रतिबंध लगाए हुए हैं." उन्होंने कहा कि कई देश कुछ देशों से आने वाली उड़ानों की अनुमति दे रहे हैं, लेकिन क्वारंटाइन या आइसोलेशन (Quarantine and Isolation) जैसे प्रतिबंध लगा रखे हैं.
भारत में फिलहाल अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानें निलंबित रहेंगीं. हालांकि, वंदे भारत मिशन के तहत दुनिया भर के देशों में एअर इंडिया और अन्य एयरलाइंस, विदेश में फंसे नागरिकों को वापस लाने के लिए विशेष उड़ानें संचालित कर रही हैं.



अंतरराष्ट्रीय उड़ाने शुरू करने से पहले कई बातों पर विचार की जरूरत
पुरी ने 1 जून को कहा था कि मेट्रो शहरों में लॉकडाउन (Lockdown) और विदेशियों के प्रवेश पर विभिन्न देशों की ओर से लगाए गए प्रतिबंधों जैसी कई बातों पर भारत में अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों को फिर से शुरू करने से पहले सोचने की आवश्यकता है.

पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, तेलंगाना और तमिलनाडु के हवाई अड्डों को दैनिक घरेलू उड़ानों की एक सीमित संख्या में चलाने की अनुमति दी गई है क्योंकि ये राज्य नहीं चाहते हैं कि COVID-19 मामलों की बढ़ती संख्या के बीच यात्रियों की भारी आमद हो.

(भाषा के इनपुट सहित)



यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस: इस राज्य में 30 जून तक बंद रहेंगे धार्मिक स्थल, मॉल, होटल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज