Home /News /nation /

ओमिक्रॉन की जांच के लिए देश में निगरानी बढ़ी, एयरपोर्ट पर टेस्टिंग अनिवार्य

ओमिक्रॉन की जांच के लिए देश में निगरानी बढ़ी, एयरपोर्ट पर टेस्टिंग अनिवार्य

ओमिक्रॉ वेरिएंट की जांच के लिए निगरानी बढ़ी

ओमिक्रॉ वेरिएंट की जांच के लिए निगरानी बढ़ी

India to scale up omicron surveillance: ओमिक्रॉन से जुड़े केसों की जांच के लिए निगरानी बढ़ा दी गई है और वेरिएंट के जिनोम सिक्वेसिंग के प्रयास तेज कर दिए गए हैं. हेल्थ अधिकारियों की कोशिश है कि एयरपोर्ट से मिलने वाले पॉजिटिव टेस्टों की 48 घंटे के अंदर जांच की जाए. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वीरोलॉजी की निदेशक प्रिया अब्राहम ने कहा कि, इस काम के लिए राज्यों में स्थित 38 लैबों को सार्स कोविड-2 जिनोमिक्स कंसोर्टियम के तहत जोड़ा गया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली: दुनियाभर में ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) को लेकर मचे बवाल के बाद भारत ने इससे निपटने की तैयारी शुरू कर दी है. देश में कोरोना (Corona) की दूसरी लहर से खराब हुए हालातों से सबक लेते हुए ओमिक्रॉन से जुड़े केसों की जांच के लिए निगरानी बढ़ा दी गई है और वेरिएंट के जिनोम सिक्वेसिंग के प्रयास तेज कर दिए गए हैं. हेल्थ अधिकारियों की कोशिश है कि एयरपोर्ट से मिलने वाले पॉजिटिव टेस्टों की 48 घंटे के अंदर जांच की जाए. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वीरोलॉजी की निदेशक प्रिया अब्राहम ने कहा कि, इस काम के लिए राज्यों में स्थित 38 लैबों को सार्स कोविड-2 जिनोमिक्स कंसोर्टियम के तहत जोड़ा गया है.

    उन्होंने कहा कि देश में कोरोना की दूसरी लहर से हमने काफी कुछ सीखा है. सरकार के साथ-साथ देश को इस बात की जरुरत महसूस हुई है कि इस कोविड-19 से जुड़े मामलों की निगरानी व जांच के लिए लैब की क्षमता को बढ़ाना चाहिए. विदेशी यात्रियों के लिए बॉर्डर खोलने के फैसले के कुछ दिनों के अंदर ही ओमिक्रॉन वेरिएंट के सामने आने के बाद भारत ने विदेशों से आने वाले यात्रियों पर फिर टेस्टिंग और आइसोलेशन में रहने का नियम लागू कर दिया है.

    नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वीरोलॉजी की डायरेक्टर, प्रिया अब्राहम पुणे स्थित हेडक्वार्टर में 300 कोविड स्ट्रेन वाली लाइब्रेरी पर नजर रखती हैं. वे ओमिक्रॉन वेरिएंट को अलग रखकर भारतीय वैक्सीन निर्माता, जिनमें भारत बायोटेक और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया शामिल हैं, इनके साथ मिलकर इस वेरिएंट के लिए वैक्सीन शॉट में बदलाव की इच्छा रखती हैं.

    हालांकि इस बारे में दोनों कंपनियों ने अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. प्रिया अब्राह्म ने कहा कि पिछले साल की तुलना में इस बार और बेहतर तैयारी की जरुरत है. हमारे पास संसाधन पहले से मौजूद हैं. अगर इसमें हमें कुछ बढ़ाने की आवश्यकता हुई तो हम बड़े मेडिकल स्कूल के साथ मिलकर काम कर सकते हैं.

    Tags: Covid-19 in India, Omicron variant

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर