अपना शहर चुनें

States

Survey Report: घूसखोरी में भारत के लोग एशिया में नंबर 1, पुलिस सबसे ज्यादा भ्रष्ट

ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल की बुधवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक एशिया में हर पांच में से एक ने रिश्‍वत दी है. (PTI)
ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल की बुधवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक एशिया में हर पांच में से एक ने रिश्‍वत दी है. (PTI)

एशियाई देशों (Asian Countries) में करप्‍शन रेटिंग (Corruption Rating) की बात करें तो इस पूरे क्षेत्र के 23 फीसदी लोग पुलिस को सबसे अधिक भ्रष्‍ट मानते हैं. दूसरे नाम पर 17 फीसद वो लोग हैं जो मानते हैं कि कोर्ट सबसे अधिक भ्रष्‍ट है. 14 फीसदी एशियाई मानते हैं क‍ि ऐसी जगह जहां पर पहचान पत्र बनते हैं वहां पर सबसे अधिक भ्रष्‍टाचार व्‍याप्‍त है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 26, 2020, 11:35 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सरकारी दफ्तरों में काम करवाने के लिए रिश्वत (Bribery) देने में भारत के लोग एशिया (Asia) में सबसे आगे हैं. यहां लोगों को किसी न किसी रूप में घूस देनी ही पड़ती है. यह जानकारी भ्रष्टाचार पर काम करने वाले ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल की बुधवार को जारी रिपोर्ट में सामने आई है. इसके मुताबिक, एशिया प्रशांत क्षेत्र में रिश्वत के मामले में भारत शीर्ष पर है, जबकि जापान सबसे कम भ्रष्ट है. इस रिपोर्ट के मुताबिक एशिया के अन्य देशों में कंबोडिया दूसरे और इंडोनेशिया तीसरे नंबर पर है. इस रिपोर्ट के मुताबिक एशिया में हर पांच में से एक ने रिश्‍वत दी है. हालांकि, सर्वे में शामिल 62 फीसदी लोग मानते हैं कि भविष्‍य में हालात सुधरेंगे.

ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल की रिपोर्ट के मुताबिक, करीब 39 फीसदी भारतीय मानते हैं कि उन्‍होंने अपना काम करवाने के लिए रिश्‍वत का सहारा लिया. कंबोडिया में ये दर 37 फीसदी और इंडोनेशिया में ये 30 फीसदी है. बता दें कि वर्ष 2019 में भ्रष्‍टाचार के मामले में भारत दुनिया के 198 देशों में 80वीं पायदान पर था. इस संस्‍था ने उसको 100 में से 41 नंबर दिए थे. वहीं, चीन 80वें, म्‍यांमार 130वें, पाकिस्‍तान 120वें, नेपाल 113वें, भूटान 25वें, बांग्‍लादेश 146वें और श्रीलंका 93वें नंबर पर रहा.

भ्रष्ट देशों की सूची में भारत 2 पायदान फिसला, इन देशों में सबसे कम है भ्रष्टाचार

पुलिस लेती है सबसे ज्यादा घूस

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज