अपना शहर चुनें

States

'भारत आने वाले वर्षों में दुनिया की तीन सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल होगा'

फाइल फोटो
फाइल फोटो

विश्व बैंक द्वारा संकलित आकंड़ों के विश्लेषण के मुताबिक भारत अगले साल ब्रिटेन को पछाड़ सकता है. विश्व बैंक की कारोबार सुगमता रैंकिंग में भारत के सुधार का जिक्र करते हुए जेटली ने कहा कि सरकार के चार साल के दौरान देश 65 स्थान के सुधार के साथ 77वें स्थान पर पहुंच गया.

  • Share this:
वित्त मंत्री अरूण जेटली ने शुक्रवार को कहा कि भारत 2019 में दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा और आगे आने वाले वर्षों में देश की गिनती शीर्ष तीन सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में होगी.

लघु एंव मझौले उद्यम (एमएसएमई) क्षेत्र को मदद और उसके साथ संपर्क’ के विषय पर राजधानी में एक विशेष कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि साढ़े चार साल पहले जब नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार के सत्ता में आने के बाद से शीर्ष वैश्विक अर्थव्यवस्था की सूची में हम नौवें स्थान से छठे पर पहुंच गए हैं.

उन्होंने कहा, 'अगले साल भारत पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा.'



यह भी पढ़ें:  RBI की स्वायत्तता भारतीय विचार नहीं, यह रघुराम राजन की देन: RSS आर्थिक इकाई प्रमुख
उन्होंने उम्मीद जतायी कि आने वाले वर्षों में भारत दुनिया की तीन सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल हो जाएगा. भारत 2017 में फ्रांस को पछाड़कर सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के मामले में छठे पायदान पर पहुंच गया था.

यह भी पढ़ें:  RBI की आजादी का सम्मान नहीं करेगी सरकार तो झेलनी पड़ेगी बाजार की नाराजगी- डिप्टी गवर्नर

विश्व बैंक द्वारा संकलित आकंड़ों के विश्लेषण के मुताबिक भारत अगले साल ब्रिटेन को पछाड़ सकता है. विश्व बैंक की कारोबार सुगमता रैंकिंग में भारत के उल्लेखनीय सुधार का जिक्र करते हुए जेटली ने कहा कि राजग सरकार के चार साल के दौरान देश 65 स्थान के सुधार के साथ 77वें स्थान पर पहुंच गया.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने विश्व बैंक की कारोबार सुगमता रैकिंग में भारत को शीर्ष 50 देशों में शामिल करने का लक्ष्य रखा है. जेटली ने कहा कि ‘भारत अपने लक्ष्य के बहुत करीब है.’

यह भी पढ़ें:  World Economic Forum ने भारत को बताया, दुनिया की 58वीं सबसे प्रतिस्पर्धी अर्थव्यवस्था
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज