लाइव टीवी

UN में कश्मीर पर नहीं आतंकवाद पर चर्चा करेगा भारत, पाकिस्तान का होगा पर्दाफाश

News18Hindi
Updated: September 20, 2019, 8:56 AM IST
UN में कश्मीर पर नहीं आतंकवाद पर चर्चा करेगा भारत, पाकिस्तान का होगा पर्दाफाश
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यूएन में एक जिम्मेदार देश के तौर पर सुरक्षा, आतंकवाद और शांति पर चर्चा करेंगे. (फाइल फोटो)

विदेश मंत्रालय (Ministry of External Affairs) ने ये जानकारी देते हुए कहा कि सुयंक्त राष्ट्र (United Nations) की बैठक में दुनिया के एक ज़िम्मेदार सदस्य के तौर पर भारत (India) विकास, शांति और सुरक्षा पर ही केंद्रित रहेगा. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) कश्मीर (Kashmir)के मुद्दे पर चर्चा नहीं करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 20, 2019, 8:56 AM IST
  • Share this:
जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में आर्टिकल 370 (Article 370) हटाए जाने के बाद भले ही पाकिस्तान (Pakistan) दुनिया के सामने कश्मीर (Kashmir) का मुद्दा उठा रहा हो लेकिन भारत (India) ने साफ कर दिया है कि वह संयुक्त राष्ट्र (United Nations) में इस मुद्दे पर चर्चा नहीं करेगा. विदेश मंत्रालय (Ministry of External Affairs) ने ये जानकारी देते हुए कहा कि सुयंक्त राष्ट्र की बैठक में दुनिया के एक ज़िम्मेदार सदस्य के तौर पर भारत विकास, शांति और सुरक्षा पर ही केंद्रित रहेगा.

विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि भारत के पास संयुक्त राष्ट्र में दुनिया के सामने चर्चा करने के लिए कई और भी अहम मुद्दे हैं. आतंकवाद उनमें से एक हैं. हम कश्मीर के मुद्दे पर नहीं आतंकवाद के मुद्दे पर दुनिया से चर्चा करना चाहते हैं. संयुक्त राष्ट्र सभा वैश्विक मुद्दों पर बात करने के लिए एक उच्च स्तरीय मंच है. उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण एक जिम्मेदार देश के तौर पर सुरक्षा, आतंकवाद और शांति पर केंद्रित रहेगा. इस मौके पर प्रधानमंत्री इन अहम मुद्दों पर हमारी अपेक्षाओं और दूसरे देशों की उम्मीदों पर बात करेंगे

हालांकि पाकिस्तान पहले ही कह चुका है कि वह संयुक्त राष्ट्र के मंच पर कश्मीर का मुद्दा उठाएगा. पाकिस्तान को कश्मीर के मुद्दे पर दुनियाभर के देशों से निराशा हाथ लगी है. भारत ने साफ किया है कि जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाया जाना उसका आंतरिक मामला है. जबकि पाकिस्तान ने कहा है कि वह संयुक्त राष्ट्र की बैठक में कश्मीर मुद्दे को अभूतपूर्व ताकत के साथ उठाएगा.

UNHRC में भारत की बड़ी जीत, कश्मीर पर पाकिस्तान को नहीं मिला दूसरे देशों का साथ.


UNHRC में पाकिस्तान की एक और नाकामयाब कोशिश
जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर दुनिया को भारत के खिलाफ गुमराह करने की पाकिस्तान की कोशिश एक बार फिर से नाकामयाब हो गई. 19 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में कश्मीर पर प्रस्ताव पेश करने का अंतिम दिन था, लेकिन पाकिस्तान इसके लिए जरूरी मत नहीं जुटा सका. सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान के कश्मीर पर प्रस्ताव को अधिकतर देशों ने साथ देने से मना कर दिया.
यूएनआरसी में इस प्रस्ताव को प्रस्तुत करने के करने के लिए न्यूनतम 16 देशों का साथ चाहिए था. पाकिस्तान और इमरान खान पूरी दुनिया के सामने भले कश्मीर को लेकर गलत तथ्य पेश कर रहे हों, लेकिन दुनिया पाकिस्तान के असलियत को जान गई है और इसलिए पाकिस्तान को साथ नहीं रहा है.
Loading...

इसे भी पढ़ें :-

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 20, 2019, 8:56 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...