भारत में 2021 के शुरुआत में आ जाएगी कोरोना वैक्सीन, जानिए कितनी होगी कीमत

भारत में 2021 के शुरुआत में आ जाएगी कोरोना वैक्सीन, जानिए कितनी होगी कीमत
भारत में 2021 के शुरुआत में आ जाएगी कोरोना वैक्सीन (फाइल फोटो)

बर्नस्टीन की रिपोर्ट में कहा गया है कि अनुमान के तौर पर सरकार के लिए कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) की प्रति डोज खरीद मूल्य 3 डॉलर और उपभोक्ताओं के लिए प्रति डोज मूल्य 6 डॉलर होने की संभावना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 28, 2020, 4:27 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना संकट (Corona crisis) से जूझ रहे लोगों के लिए एक अच्छी खबर सामने आई है. भारत (India) के पास साल 2021 की पहली तिमाही में अप्रूव्ड (approved) कोरोना वायरस (Coronavirus) की वैक्सीन उपलब्ध होगी. इतना ही नहीं पुणे (Pune) स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) अपनी पहली वैक्सीन (First Vaccine) वितरित करने की स्थिति में होगा. यह जानकारी एक शीर्ष वॉल स्ट्रीट रिसर्च और ब्रोकरेज फर्म, बर्नस्टीन रिसर्च (Bernstein report) की गुरुवार की रिपोर्ट से मिली है.

बर्नस्टीन की रिपोर्ट के मुताबिक, वैश्विक रूप से 4 ऐसे कैंडीडेट्स हैं जिनकी कोरोना वैक्सीन इसी साल 2020 के अंत या 2021 की शुरुआत तक अप्रूवल के करीब हैं. इनमें पार्टनरशिप के माध्यम से भारत के पास 2 हैं, ऑक्सफोर्ड का वायरल वेक्टर वैक्सीन और नोवावैक्स का प्रोटीन सब-यूनिट वैक्सीन. रिपोर्ट में कहा गया कि, ‘SII को अपनी मौजूदा क्षमता और योग्यता के आधार पर अप्रूवल के समय, क्षमता और मूल्य निर्धारण के मद्देनजर एक या दोनों पार्टनरशिप वाले वैक्सीन उम्मीदवार के व्यवसायीकरण के लिए सबसे अच्छी स्थिति में रखा गया है.’

सभी ट्रायल्स आशाजनक



इन उम्मीदवारों के पहले चरण और अन्य चरणों के ट्रायल्स ‘सुरक्षा के संदर्भ में और रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रतिक्रिया प्राप्त करने की वैक्सीन की क्षमता’ को लेकर आशापूर्ण नजर आ रहे हैं. रिपोर्ट में भारत के ‘वैश्विक क्षमता समीकरण’ को लेकर सकारत्मक प्रतिक्रिया व्यक्त की गई है. हालंकि इसके साथ मैन्यूफैक्चरिंग पैमाने को चुनौतियों का सामना नहीं करने की उम्मीद भी जताई गई है.
6 डॉलर प्रति डोज होंगे दाम

रिपोर्ट का कहा कि एसआईआई साल 2021 में 60 करोड़ डोज और साल 2022 में 100 करोड़ डोज की आपूर्ति कर सकती है, वहीं गावी द वैक्सीन अलायंस और निम्न मध्यम आय बाजारों के लिए कंपनी की प्रतिबद्धता के मद्देनजर भारत में साल 2021 में इन खुराकों में से 40 से 50 करोड़ खुराक उपलब्ध होना चाहिए. रिपोर्ट में आशंका जताई गई है कि सरकारी और निजी बाजार के बीच वैक्सीन की मात्रा 55:45 हो जाएगी. बर्नस्टीन की रिपोर्ट में कहा गया है कि अनुमान के तौर पर सरकार के लिए कोरोना वैक्सीन की प्रति डोज खरीद मूल्य 3 डॉलर और उपभोक्ताओं के लिए प्रति डोज मूल्य 6 डॉलर होने की संभावना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज