Home /News /nation /

पोखरण में भारत ने PAK को दिखाई वायुसेना की ताकत, 2 घंटे तक गरजते रहे 130 फाइटर जेट

पोखरण में भारत ने PAK को दिखाई वायुसेना की ताकत, 2 घंटे तक गरजते रहे 130 फाइटर जेट

(युद्धाभ्यास की तस्वीर- साभार दूरदर्शन)

(युद्धाभ्यास की तस्वीर- साभार दूरदर्शन)

वायुसेना का यह कार्यक्रम हर तीन साल में आयोजित किया जाता है. इस बार वायुसेना का थीम 'वायु शक्ति' रखा गया था.

    पुलवामा हमले के दो दिन बाद शनिवार को भारतीय वायुसेना ने भारत-पाकिस्तान सीमा के पास जैसलमेर के पोखरण स्थित चांधन फील्ड फायरिंग रेंज में देश का सबसे बड़ा युद्धाभ्यास (फायर फॉर डिमॉन्स्ट्रेशन) वायुशक्ति-2019 संचालित किया. इस दौरान 130 से ज्यादा फाइटर प्लेन और हेलीकॉप्टर और एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर जैसे विमान शामिल रहें.

    वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने इस कार्यक्रम के दौरान कहा वायुसेना सरकार के आदेश का पालन करने के लिए तैयार है. वायुसेना हर तरह की जिम्मेदारी उठाने के लिए तैयार है. इस दौरान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर भी मौजूद रहे.

    हवा से जमीन में मार करने वाले विमानों में स्वदेशी एयरक्राफ्ट हथियारों का दबदबा दिखा. इस युद्धाभ्यास में सुखोई-30, मिग-29, मिराज-2000, जगुआर, मिग-27 जैसे फ्रंटलाइन फाइटर एयक्राफ्ट भी शामिल रहे. साथ ही स्वदेशी तेजस और एडवांस्ड लाइट हेलिकॉप्टर रुद्र ने भी फायरिंग में हिस्सा लिया.



    सिक्योरिंग द नेशन इन पीस एंड वॉर है थीम
    वायुसेना का यह कार्यक्रम हर तीन साल में आयोजित किया जाता है. इस बार वायुसेना का थीम 'वायु शक्ति' रखा गया था. इस बार वायुसेना ने अपने शानदार मिग -21 बाइसन, मिग -27 यूपीजी, मिग -29, जगुआर, एलसीए (तेजस), मिराज -2000, सु -30 एमकेआई, हॉक, सी -130 जे सुपर हरक्यूलिस, एन -32, एमआई -17 वी 5, एमआई -35 हमले के हेलीकाप्टरों, स्वदेशी रूप से विकसित AEW & C और उन्नत लाइट हेलीकाप्टर (ALH MK-IV) वीमानों के जरिए प्रदर्शन किया.



    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: CRPF, Indian Airforce, MIG-27, Pulwama, Rajasthan news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर