लाइव टीवी

IAF को मिली Spice 2000 बमों की पहली खेप, बालाकोट में मचा चुका है तबाही

News18Hindi
Updated: September 16, 2019, 5:47 AM IST
IAF को मिली Spice 2000 बमों की पहली खेप, बालाकोट में मचा चुका है तबाही
भारतीय वायुसेना (IAF) को इजरायल से स्पाइस-2000 बमों की नई खेप मिलनी शुरू हो गई है (फाइल फोटो)

भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) की ताकत में और इजाफा हुआ है. ऐसा हुआ है वायुसेना को जल्द ही मिलने वाले स्पाइस 2000 बम (Spice 2000 bomb) के चलते. अब भारत को इसका बंकर बस्टर वर्जन मिला है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 16, 2019, 5:47 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पाकिस्तान (Pakistan) से पिछले कुछ दिनों से चले आ रहे तनाव के बीच भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) की ताकत में और इजाफा हुआ है. ऐसा वायुसेना को जल्द ही मिलने वाले स्पाइस 2000 बम (Spice 2000 bomb) के चलते हुआ है. अब भारत को इसका 'बिल्डिंग ब्लास्टर' वर्जन मिला है. माना जा रहा है कि भारतीय एयरफोर्स इसके बाद पाकिस्तान (Pakistan) को मुंहतोड़ जवाब देने से पीछे नहीं हटेगी.

एयरफोर्स को इजरायल (Israel) की ओर से मिलने वाले इस बम के लिए भारत ने 250 करोड़ की डील की थी. जानकारी के अनुसार यह काफी आधुनिक और विध्वंसक बम हैं, जो किसी भी सेना की ताकत में काफी इजाफा कर देते हैं.

ग्वालियर एयरबेस पर आई खेप
भारतीय वायुसेना (IAF) को इजरायल से स्पाइस-2000 बमों की नई खेप मिलनी शुरू हो गई है. बमों के नए संस्करण का पहली खेप हाल ही में भारत को दी गई है.

ग्वालियर एयरबेस पर स्पाइस-2000 बमों की खेप मिली है. इसकी वजह यह है कि यह भारतीय वायुसेना के मिराज 2000 लड़ाकू विमान बेड़े का बेस है और यही एकमात्र ऐसा बेड़ा है जो इजरायल के इन बमों को ले जाने में सक्षम हैं.



बच नहीं सकेगा दुश्मन
भारतीय वायुसेना ने इजरायल के साथ 250 करोड़ के अनुबंध पर हस्ताक्षर किए हैं. मार्क 84 वॉरहेड और बमों के साथ जो पूरी तरह से इमारतों को नष्ट कर सकते हैं. इनकी स्टैंडऑफ रेंज करीब 60 किमी तक होती है. इनकी खासियत यह है कि इनमें एडऑन किट लगा होता है साथ ही यह गिरने के बाद भी अपने लक्ष्य को खोज कर ध्वस्त करने में माहिर होते हैं. इस बम की मार से दुश्मन का बचना नामुमकिन होता है.

बालाकोट में इस्तेमाल किया था इसी बम का दूसरा वर्जन
जानकारी के अनुसार फरवरी में भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट स्थित जैश ए मोहम्मद के आतंकी ठिकानों को ध्वस्त करने के लिए स्पाइस 2000 बम के ही दूसरे वर्जन का इस्तेमाल किया था. यह इजरायली एम्यूनेशन का भेदक वर्जन था. गौरतलब है कि वायुसेना को यह बम उस समय मिलने जा रहे हैं जब आर्टिकल 370 में संशोधन के बाद पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और लगातार भारत को युद्ध की धमकियां दे रहा है.

यह भी पढ़ें: बालाकोट एयरस्ट्राइक से Air India को झटका! 4 महीनों में डूबे इतने करोड़

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 16, 2019, 5:46 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...