Assembly Banner 2021

बालाकोट हवाई हमले के 2 साल: वायुसेना ने दिखाया कैसे बालाकोट में PAK पर की गई थी एयर स्ट्राइक

फोटो साभारः ANI

फोटो साभारः ANI

वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने भी स्क्वाड्रन पायलटों के साथ एक मल्टी एयरक्राफ्ट में उड़ान भरी.वायु सेना की इस प्रैक्टिस स्ट्राइक का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें एयरक्राफ्ट के जरिए से एक टारगेट पर निशाना लगाते हुए देखा जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2021, 12:21 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन के कैंपों को ध्वस्त करने के लिए दो साल पहले की गई बालाकोट एयर स्ट्राइक की दूसरी एनिवर्सिरी के मौके पर भारतीय वायुसेना ने एक और एयर स्ट्राइक की. हालांकि, यह एयर स्ट्राइक किसी देश या किसी आतंकवादी संगठन पर नहीं, बल्कि एक अभ्यास के रूप में की गई. लॉन्ग रेंज की एयर स्ट्राइक पर प्रैक्टिस टारगेट को निशाना बनाया गया. खास बात यह है कि इस एयर स्ट्राइक को उसी स्क्वाड्रन ने अंजाम दिया, जिसने बालाकोट में असल ऑपरेशंस कर आतंकी कैंपों को ध्वस्त कर दिया था.

भारतीय वायुसेना प्रमुख ने भी बालाकोट ऑपरेशन की दूसरी वर्षगांठ के मौके पर उन्हीं मल्टी रोल फाइटर एयरक्राफ़्ट फ़ार्मेशन सुखोई और मिराज में उन्ही पायलटों के साथ उड़ान भी भरी और पायलटों और वायुसैनिकों की हौसला अफजाई भी की. वही रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने भी बालाकोट के सफल एयर स्ट्राइक के लिए वायुसेना को बधाई दी.

अभ्यास का वीडियो आया सामने
वायुसेना के स्पाइस 2000  बम के जरिए आतंकियों के शिविरों को नेस्तनाबूद किया गया था ठीक उसी तरह के एम्यूनेशन का इस्तेमाल इस अभ्यास के लिए किया गया. मिराज 2000 के स्क्वाड्रन ने उस अटैक को अंजाम दिया था साथ ही पूरे ऑपरेशन में भारत का फ़्रंटलाइन फाइटर एयरक्रफ्ट सुखोई सहित लगभग सभी फाइटरों ने अपना योगदान दिया था. वायुसेना ने इस अभ्यास का वीडियो जारी किया जिसमें साफ दिख रहा है कि किस तरह से कंक्रीट के मज़बूत निशाने पर प्रीशेसन गाइडेड बम से सटीक निशाना लगा कर उसे पूरी तरह से नष्ट कर दिया.  देखें VIDEO...




लक्ष्य के निशाना बनते ही तेजी से धमाका हुआ और काफी ऊंचाई तक धुएं का गुबार उड़ता रहा.

भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने 26 फरवरी 2019 को नियंत्रण रेखा के पार जाकर बालाकोट में आतंकवादी ठिकानों को नष्ट कर दिया था. जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी 2019 को आतंकवादियों के हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे, जिसके जवाब में यह कार्रवाई की गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज