लद्दाख बॉर्डर पर चीनी सैनिकों से हुई झड़प, भारतीय सेना ने कहा- अब सुलझ गया मुद्दा

News18Hindi
Updated: September 12, 2019, 12:52 PM IST
लद्दाख बॉर्डर पर चीनी सैनिकों से हुई झड़प, भारतीय सेना ने कहा- अब सुलझ गया मुद्दा
सांकेतिक तस्वीर

भारत और चीन (India and China) के बीच ये भिड़ंत 134 किलोमीटर लंबी पैंगोंग झील के उत्तरी किनारे पर हुई. बता दें कि यहां एक तिहाई हिस्से पर चीन का नियंत्रण है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 12, 2019, 12:52 PM IST
  • Share this:
भारत और चीन (India and China) के बीच सीमा पर तनाव बढ़ गया है. खबर है कि बुधवार को दोनों देशों के सैनिकों के बीच धक्का-मुक्की हुई. ये घटना पूर्वी लद्दाख (Ladakh) की है. सूत्रों के मुताबिक दोनों पक्षों के बीच काफी देर तक धक्का-मुक्की होती रही. ये भिड़ंत 134 किलोमीटर लंबी पैंगोंग झील (Pangong) के उत्तरी किनारे पर हुई. बता दें कि यहां एक तिहाई हिस्से पर चीन का नियंत्रण है.

क्यों हुई धक्का-मुक्की?
सूत्रों के मुताबिक ये घटना उस वक्त हुई जब बॉर्डर पर भारतीय सेना पेट्रोलिंग कर रही थी. पेट्रोलिंग के दौरान भारतीय सैनिकों का सामना चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी के सैनिकों के साथ हुआ. चीनी सैनिकों ने इलाके में भारतीय सैनिकों की मौजूदगी का विरोध किया. इसके बाद दोनों तरफ के सैनिकों के बीच धक्का-मुक्की होने लगी. बुधवार देर शाम तक दोनों पक्षों के बीच ये संघर्ष जारी रहा. हालांकि बाद में दोनों पक्षों में बातचीत के बाद मामले को सुलझा लिया गया.भारत ने इसको लेकर अधिकारिक शिकायत भी दर्ज करा दी है. बता दें कि कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाये जाने के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव चल रहा है. ऐसे में चीन ने पाकिस्तान का कुछ मुद्दों पर समर्थन किया था.

2017 में भी हुई थी झड़प

सेना के सूत्रों के मुताबिक लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर दोनों पक्षों के बीच ऐसी घटनाएं होती रहती हैं. बता दें कि कि 15 अगस्त 2017 को भी पैंगोंग झील के उत्तरी किनारे पर दोनों देशों के सैनिकों के बीच झड़प हुई थी. दोनों पक्षों ने पत्थरों और लोहे के रॉड्स का भी एक दूसरे के खिलाफ इस्तेमाल किया था.

यहां देखें वीडियो

Loading...

डोकलाम में विवाद
दो साल पहले यानी साल 2017 में भारत और चीन के बीच डोकलाम में बड़ा विवाद हुआ था. दोनों देशों की सेना 73 दिनों तक यहां आमने-सामने रही थी. राजनयिक बातचीत के बाद ये गतिरोध खत्म हुआ था. दरअसल डोकलाम में चीनी सेना ने सड़क का निर्माण शुरू कर दिया था. भूटान की तरफ मदद का हाथ बढ़ाते हुए भारतीय सेना डोकलाम तक पहुंच गई और उसने सड़क का निर्माण कार्य रोक दिया था.

ये भी पढ़ें:

चुनाव आयोग आज तीन राज्यों के चुनाव की तारीख का कर सकता है ऐलान
जेलों में कैदियों को मिलेगी फोन की सुविधा, रिश्तेदारों से कर सकेंगे बात
विपक्ष ने कहा- PM को चिंतित होना चाहिए कि लोग गाय के नाम पर मारे जा रहे हैं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 8:22 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...