• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • चीनी सेना को सबक सिखाने के लिए भारतीय सैनिकों को मिली पूरी छूट- सूत्र

चीनी सेना को सबक सिखाने के लिए भारतीय सैनिकों को मिली पूरी छूट- सूत्र

लद्दाख के हालात पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज तीनों सेनाओं के प्रमुखों और CDS बिपिन रावत ​के साथ बैठक की.

लद्दाख के हालात पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज तीनों सेनाओं के प्रमुखों और CDS बिपिन रावत ​के साथ बैठक की.

चीन (China) के साथ चल रहे विवाद के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) आज एक बार फिर तीनों सेनाओं के प्रमुखों और CDS बिपिन रावत (Bipin Rawat) ​के साथ बैठक की.

  • Share this:
नई दिल्ली. पूर्वी लद्दाख (East Ladakh) की गलवान घाटी (Galwan Valley) में भारत (India) और चीन (China) के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया है. चीन के साथ लगती 3,500 किलोमीटर लंबी वास्तविक नियंत्रण रेखा पर तैनात सशस्त्र बलों को चीन के किसी भी आक्रमक बर्ताव का मुंह तोड़ जवाब देने की पूरी आजादी दी गई है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ लद्दाख में हालात पर उच्च स्तरीय बैठक के बाद सूत्रों ने यह जानकारी दी.

रक्षा मंत्री के साथ इस बैठक में प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत, सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे, नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह और वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर के एस भदौरिया ने हिस्सा लिया. सूत्रों ने बताया कि सिंह ने शीर्ष सैन्य अधिकारियों को जमीनी सीमा, हवाई क्षेत्र और रणनीतिक समुद्री मार्गों में चीन की गतिविधियों पर कड़ी नजर रखने के निर्देश दिए और चीनी सैनिकों के किसी भी दुस्साहस का मुंह तोड़ जवाब देने के लिए सख्त रुख अपनाने को कहा है.

सूत्रों ने बताया कि सशस्त्र बलों को दोनों देशों के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीन की सेना के किसी भी प्रकार के आक्रामक रवैए से निपटने के लिए पूरी स्वतंत्रता दी गई है. उन्होंने कहा कि सेना और भारतीय वायु सेना ने चीन के किसी भी दुस्साहस से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए एलएसी पर अपनी अभियानगत तैयारियों को पहले ही तेज कर दिया है.

इसे भी पढ़ें :- India-China Face Off: भारत ने चीन से सटे LAC पर तैनात किए चिनूक और अपाचे हेलीकॉप्टर

तीनों सेनाओं को हाई अलर्ट पर रखा गया
बता दें कि सीमा पर मिग, हरक्यूलिस, मिराज, सुखोई विमान पहले से ही एलएसी पर तैनात हैं. लिहाजा सेना, नौसेना और वायुसेना को अलर्ट पर रखा गया है. सूत्रों के मुताबिक सरकार ने तीनों सेनाओं को किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा है. इतना ही नहीं भारतीय नौसेना को हिंद महासागर क्षेत्र में अपनी सतर्कता बढ़ा देने को कहा गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज