तीन दिवसीय दक्षिण कोरिया दौरे पर सेना प्रमुख नरवणे, रक्षा सहयोग बढ़ाने पर होगी बात

सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने अपने दौरे की शुरुआत कोरियाई राष्ट्रीय स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि देने के साथ की.

सेना प्रमुख एमएम नरवणे (General MM Naravane) के दौरे का उद्देश्य भारत-दक्षिण कोरिया (India-South Korea defence relations) के बीच रणनीतिक और रक्षा सहयोग बढ़ाना है. कोरिया भारत को सैन्य साजो सामान की आपूर्ति करने वाला प्रमुख देश है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय सेनाध्यक्ष जनरल एमएम नरवणे (General MM Naravane) ने सोमवार को अपनी तीन दिवसीय दक्षिण कोरिया (South Korea) यात्रा की शुरुआत की. भारतीय सेना के हवाले से ANI ने कहा कि सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने कोरियाई सैन्य स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि देने के साथ अपने दौरे की शुरुआत की. सेना प्रमुख के दौरे का उद्देश्य दोनों देशों के बीच रणनीतिक और रक्षा सहयोग बढ़ाना है. सेना प्रमुख ने चोउल में दक्षिण कोरिया के जनरल वोन से मुलाकात की और भारत-कोरिया के रिश्तों को मजबूत बनाने पर चर्चा की. दक्षिण कोरिया भारत को सैन्य साजो सामान की आपूर्ति करने वाला प्रमुख देश है.

    अधिकारियों के मुताबिक अपनी इस यात्रा के दौरान सेना प्रमुख द्विपक्षीय सैन्य सहयोग का विस्तार करने के तरीकों पर कोरियाई देश के वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों से बात करेंगे. खबरों के मुताबिक राजधानी सियोल में जनरल नरवणे दक्षिण कोरिया के रक्षामंत्री, सेना प्रमुख और ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ से मिलने का कार्यक्रम है.

    भारतीय सेना प्रमुख के दक्षिण कोरिया के साथ रक्षा खरीद योजना प्रशासन मंत्री (Defence Acquisition Planning Administration, DAPA) से भी मिलेंगे. सेना ने एक बयान में बताया कि जनरल नरवणे गैंगवॉन प्रांत में कोरिया कॉम्बैट ट्रेनिंग सेंटर और डेयजोन में एडवांस डिफेंस डेवलपमेंट का भी दौरा करेंगे.

    इससे पहले सेना प्रमुख संयुक्त अरब अमीरात और सऊदी अरब के छह दिवसीय दौरे पर गए थे. जनरल नरवणे की ये यात्रा खाड़ी के दो प्रभावशाली देशों के साथ भारत के बढ़ते रणनीतिक संबंधों को दिखाती है. पिछले महीने जनरल नरवणे नेपाल और म्यामांर की यात्रा पर भी गए थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.