पाकिस्तान से होने वाली घुसपैठ को रोकने के लिए सेना ने LoC पर 3000 अतिरिक्त सैनिक किए तैनात

भारत ने घुसपैठ के प्रयासों को रोकने के लिए LoC पर जवानों की तैनाती में इजाफा किया है (सांकेतिक फोटो)
भारत ने घुसपैठ के प्रयासों को रोकने के लिए LoC पर जवानों की तैनाती में इजाफा किया है (सांकेतिक फोटो)

LoC पर तैनात अतिरिक्त जवान (additional troops) लगभग सभी बड़ी घुसपैठ की कोशिशों को नाकाम करने में सफल रहे हैं. क्योंकि अक्टूबर-नवंबर में भारी बर्फबारी (snowfall) के चलते घुसपैठ (infiltration) के सारे रास्ते बंद हो जाते हैं, इसलिए आतंकी (terrorists) इससे पहले घुसपैठ के भारी प्रयास करते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 19, 2020, 7:53 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) की नियंत्रण रेखा (LoC) के पार आतंकियों (Terrorists) को भेजने की साजिश को देखते हुए, भारतीय सेना (Indian Army) ने जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में अतिरिक्त 3,000 सैनिकों (troops) को तैनात किया है. ताकि किसी भी घुसपैठ (infiltration) की कोशिश को नाकाम किया जा सके. एक प्रमुख सूत्र ने ANI को बताया, "घुसपैठ को प्लग करने के लिए एलओसी (LoCO) पर एक अतिरिक्त ब्रिगेड तैनात की गई है और इस कदम के अच्छे परिणाम भी आए हैं,"

सूत्रों ने बताया कि LoC पर तैनात अतिरिक्त जवान (additional troops) लगभग सभी बड़े घुसपैठ के प्रयासों को नाकाम करने में सफल रहे हैं. क्योंकि अक्टूबर-नवंबर में भारी बर्फबारी (snowfall) के चलते घुसपैठ (infiltration) के सारे रास्ते बंद हो जाते हैं, इसलिए आतंकी (terrorists) इससे पहले घुसपैठ के भारी प्रयास करते हैं.

चीन के लिए दबाव बनाने को पाक कर रहा ऐसा तो भी भारत निपटने को तैयार
सूत्रों ने कहा है कि पाकिस्तानी सेना को इस साल आतंकियों को भारत में भेजने में कोई खास सफलता नहीं मिल सकी है. भारतीय सेना एलओसी पर पूरी तरह से सक्रिय है और सैनिकों ने हाल ही में उत्तरी कश्मीर के गुरेज़ सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया है.
सूत्रों ने कहा कि वर्तमान में, पाकिस्तानी सेना की भी कुछ अतिरिक्त बटालियन पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर जमी हुई हैं, लेकिन यह बात साफ नहीं है कि क्या वे चीनी सेना के समर्थन में भारत पर दबाव बनाने के लिए यहां हैं? उन्होंने कहा कि यदि पाकिस्तानियों ने ऐसा करने की कोशिश की, तो भारतीय सेना इससे निपटने के लिए अच्छी तरह से तैयार है.



सेना प्रमुख ने जम्मू-कश्मीर का दौरा कर सुरक्षा स्थिति का जायजा लिया
पाकिस्तान लगातार संघर्ष विराम उल्लंघन को बढ़ाने की कोशिश कर रहा है और सेना प्रमुख ने जम्मू-कश्मीर में चल रही सुरक्षा स्थिति की समीक्षा करने के लिए श्रीनगर का दौरा किया. इस यात्रा के दौरान, सेना प्रमुख ने एलओसी पर अग्रिम स्थानों का दौरा किया और वहां सैनिकों की तैयारियों की स्वयं समीक्षा की.

यह भी पढ़ें: राजौरी से 3 आतंकी गिरफ्तार,लेने पहुंचे थे पाकिस्‍तानी ड्रोन से गिराए गए हथियार

उन्होंने कहा कि श्रीनगर में सेना प्रमुख को चिनार कोर के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा सुरक्षा स्थिति के बारे में बताया गया. पाकिस्तानी सेना ने नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम उल्लंघनों में बढ़ोत्तरी की है जबकि भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में कुछ इलाकों को लेकर तनातनी चल रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज