भारतीय सेना ने 147 और महिला अधिकारियों को दिया स्थायी कमीशन

33 महिला अधिकारियों के एक बैच ने पहले ही मध्य स्तर के टेक्टिकल ओरिएंटेशन पाठ्यक्रम को पूरा कर लिया है. (File photo)

सुप्रीम कोर्ट ने 2020 में महिलाओं को स्थायी कमीशन दिया था. 17 फरवरी 2020 को एक ऐतिहासिक फैसले में, सुप्रीम कोर्ट ने महिला अधिकारियों को उनकी सेवा के वर्षों की संख्या के बाद स्थायी कमीशन दिया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय सेना (Indian Army) ने 615 में से कुल 424 महिला अधिकारियों को स्थायी कमीशन दिया है, जिन पर बुधवार को 147 और अधिकारियों को शामिल करने के बाद विचार किया गया था. सुप्रीम कोर्ट को घटनाक्रम की जानकारी देते हुए भारतीय सेना ने कहा कि कुछ महिला अधिकारियों के परिणाम प्रशासनिक कारणों से रोके गए थे और कुछ स्पष्टीकरण याचिका के परिणाम की प्रतीक्षा कर रहे थे.

    पीआईबी की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि स्थायी कमीशन पाने वाली सभी महिला अधिकारियों को विशेष प्रशिक्षण पाठ्यक्रम से गुजरना होगा और भारतीय सेना में उच्च नेतृत्व की भूमिकाओं के लिए उन्हें सशक्त बनाने के लिए चुनौतीपूर्ण सैन्य असाइनमेंट पूरे करने होंगे. इसमें यह भी कहा गया है कि 33 महिला अधिकारियों के एक बैच ने पहले ही मध्य स्तर के टेक्टिकल ओरिएंटेशन पाठ्यक्रम को पूरा कर लिया है.

    2020 में महिलाओं को दिया गया था स्थायी कमीशन
    सुप्रीम कोर्ट ने 2020 में महिलाओं को स्थायी कमीशन दिया था. 17 फरवरी 2020 को एक ऐतिहासिक फैसले में, सुप्रीम कोर्ट ने महिला अधिकारियों को उनकी सेवा के वर्षों की संख्या के बाद स्थायी कमीशन दिया.

    ये भी पढ़ें- कोरोना वैक्सीन साझा करने पर भारत-यूएस में क्या है मुश्किलें.. यहां जानिए सबकुछ

    भारतीय सेना में महिला शॉर्ट सर्विस कमीशन (एसएससी) अधिकारियों को स्थायी कमीशन के लिए अपने पुरुष समकक्षों के साथ समानता की तलाश के लिए एक लंबी लड़ाई लड़नी पड़ी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.