पाकिस्‍तान ने आतंकियों को मदद पहुंचाने के लिए भेजा क्‍वाडकॉप्‍टर, भारतीय जवानों ने मार गिराया

सेना ने पाकिस्‍तान के नापाक मंसूबों पर पानी फेर दिया है.
सेना ने पाकिस्‍तान के नापाक मंसूबों पर पानी फेर दिया है.

जम्‍मू-कश्‍मीर (Jammu Kashmir) के केरन सेक्‍टर में सैनिकों ने मार गिराया पाकिस्‍तान (Pakistan) का क्‍वाडकॉप्‍टर.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2020, 1:04 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. पाकिस्‍तान (Pakistan) सरहद (LoC) पर अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. सीमा पर संघर्षविराम के साथ ही पाकिस्‍तान आतंकियों (Terrorists) को मदद पहुंचाने और सर्विलांस के लिए क्‍वाडकॉप्‍टर (Quadcopter) का इस्‍तेमाल कर रहा है. भारतीय सेना ने पाकिस्‍तान के ऐसे ही क्‍वाडकॉप्‍टर को जम्‍मू कश्‍मीर में मार गिराया है. यह अनमैंड एरियल व्‍हीकल (UAV) या ड्रोन होते हैं. वह इनके जरिये सामान को भारतीय क्षेत्र में पर गिराता है या उनसे भारतीय क्षेत्र की जासूसी करता है.

जानकारी के मुताबिक इस क्‍वाडकॉप्‍टर जम्‍मू कश्‍मीर के केरन सेक्‍टर में भारतीय सीमा में करीब 70 मीटर अंदर घुसपैठ करते हुए गिरा. बताया जा रहा है कि यह क्‍वाडकॉप्‍टर पाकिस्‍तानी सेना के स्‍पेशल सर्विस ग्रुप (SSG) का हिस्‍सा है. इसे भारतीय सैनिकों ने मार गिराया है. बता दें कि पहले भी पाकिस्‍तान इस तरह के ड्रोन का इस्‍तेमाल एलओसी पर करता रहा है. इनके जरिये वह आतंकियों को हथियार और जरूरी सामान पहुंचाने की कोशिश करता है.

पहले भी जम्‍मू कश्मीर के पीर पांजाल रेंज में पाकिस्‍तान की ओर से ड्रोन के जरिए आतंकियों को हथियार सप्‍लाई करने की बात सामने आई थी. पिछले महीने ही जम्‍मू और राजौरी जिले में पाकिस्‍तान की ओर से ड्रोन के जरिए भेजे गए हथियार बरामद किए गए थे. जून में बीएसएफ ने कठुआ में अंतरराष्‍ट्रीय सीमा के पास आधुनिक राइफल और ग्रेनेड से लदे एक पाकिस्‍तान डोन को मार गिराया था. ऐसे में सितंबर में इस खतरे को लेकर सेना पहले से ही सतर्क थी.

वहीं विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि पाकिस्तानी सैनिकों ने इस साल जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर बिना किसी उकसावे के 3800 से ज्यादा बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया और ड्रोन के जरिए हथियारों, मादक पदार्थों की तस्करी को बढ़ावा दिया. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने लगातार बिना किसी उकसावे के गोलीबारी कर संघर्षविराम समझौते का उल्लंघन किया और असैन्य इलाकों को भी निशाना बनाया. इसके साथ ही उसने एलओसी पार से आतंकियों को घुसपैठ कराने का भी प्रयास किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज