India-China Standoff: लद्दाख में भारतीय जवानों ने चीनी सैनिक को पकड़ा, पास मिले सैन्य दस्तावेज- सूत्र

अरुणाचल प्रदेश में भारत चीन सीमा के पास एक तस्वीर (तस्वीर- भारतीय सेना)
अरुणाचल प्रदेश में भारत चीन सीमा के पास एक तस्वीर (तस्वीर- भारतीय सेना)

India-China Standoff: चीनी सैनिक को लद्दाख के चुमार-डेमचोक इलाके में सुरक्षा बलों द्वारा पकड़ा गया. सूत्रों ने जानकारी दी कि वह अनजाने में भारतीय क्षेत्र में प्रवेश कर गया होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 7:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली/लद्दाख. भारत-चीन (India China Faceoff) के बीच वास्ताविक नियंत्रण रेखा  (Line of Actual Control) को लेकर जारी विवाद के बीच भारतीय सुरक्षा बलों ने लद्दाख (Ladakh) के चुमार-डेमचोक (Chumar Dmechok) इलाके में एक चीनी सैनिक को पकड़ा है. सुरक्षा बलों से जुड़े सूत्र ने यह जानकारी देते हुए बताया कि पकड़ा गया सैनिक संभवत: गलती से भारतीय सीमा में घुस आया है. सूत्रों ने कहा कि सैनिक को तय प्रोटोकॉल के तहत सारी प्रक्रिया पूरी होने के बाद चीनी सेना को वापस सौंप दिया जाएगा.


भारतीय सेना के हवाले से जानकारी मिली है कि पकड़े गए चीनी सैनिक का नाम कॉर्पोरल वांग या लॉन्ग है जो कि पूर्वी लद्दाख के डेमचोक सेक्टर में एलएसी के पार करने के बाद पकड़ा गया. सेना ने बताया कि लॉन्ग को अत्यधिक ऊंचाई और कठोर जलवायु परिस्थितियों से बचाने के लिए चिकित्सा सहायता, भोजन और गर्म कपड़े दिए गए हैं.

समाचार एजेंसी ANI के अनुसार 'लद्दाख के चुमार-डेमचोक क्षेत्र में सुरक्षा बलों द्वारा चीनी सैनिक को पकड़ा गया. वह अनजाने में भारतीय क्षेत्र में प्रवेश कर गया होगा. तय प्रक्रिया का पालन करने के बाद प्रोटोकॉल के अनुसार उन्हें वापस चीनी सेना के पास भेज दिया जाएगा.'
अपना याक बरामद करने भारत में आ गया चीनी सैनिक- सूत्र


सूत्रों ने कहा कि चीनी सेना के छठी मोटराइज्ड इन्फैन्ट्री डिवीजन के सिपाही से पूछताछ की जा रही है कि वह किसी जासूसी मिशन पर था या नहीं. सूत्रों ने कहा कि उसके पास से सिविल और सैन्य दस्तावेज बरामद हुए हैं.


सूत्रों ने दावा किया कि चीनी सैनिक अपना याक ढूंढने के लिए भारत में आ गया. सूत्रों ने कहा कि वह अकेला था और उसके पास कोई हथियार नहीं था. सूत्रों की ओर से बताया गया, 'अगर उसने अनजाने में प्रवेश किया है, तो उसे प्रोटोकॉल के अनुसार वापस चीनी सेना को सौंप दिया जाएगा.'  यह घटना रविवार रात की बताई गई है. सूत्रों ने कहा कि सेना अब एक औपचारिक बयान तैयार कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज