लाइव टीवी

ICJ में भारतीय अधिकारी ने पाक राजनयिक से नहीं मिलाया हाथ, कहा- नमस्‍कार

News18.com
Updated: February 19, 2019, 12:35 PM IST

इंटरनेशनल कोर्ट में 20 फरवरी को दूसरे राउंड में पाकिस्तान द्वारा रखे गए पक्ष पर भारत जवाब देगा. वहीं पाक को यह मौका 21 फरवरी को मिलेगा.

  • News18.com
  • Last Updated: February 19, 2019, 12:35 PM IST
  • Share this:
कुलभूषण जाधव मामले में इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) में सोमवार से चार दिनों तक चलने वाली सुनवाई आज पूरे दिन चली. इस दौरान भारत ने आज अपना पक्ष रखा. मंगलवार को पाकिस्तान अपना पक्ष रखेगा. वहीं पुलवामा आतंकी हमले को लेकर दोनों देशों के बीच तनाव का असर इंटरनेशन कोर्ट में भी देखने को मिला. कोर्ट की कार्रवाई शुरू होने से पहले विदेश मंत्रालय के ज्वाइंट सेक्रेटरी दीपक मित्तल ने पाकिस्तान के अटॉर्नी जनरल अनवर मंसूर खान से हाथ मिलाने से इनकार कर दिया.

दरअसल, इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस में बहस से पहले दोनों देशों के प्रतिनिधि का आमना सामना हुआ. उस वक्त अनवर मंसूर खान ने भारत के प्रतिनिधि दीपक मित्तल के तरफ हाथ बढ़ाया. लेकिन मित्तल ने हाथ नहीं मिलाया और उसके एवज में हाथ जोड़कर नमस्कार किया. इससे पाकिस्तान के प्रतिनिधि झेंप गए.

इंटरनेशनल कोर्ट में 20 फरवरी को दूसरे राउंड में पाकिस्तान द्वारा रखे गए पक्ष पर भारत जवाब देगा. वहीं पाक को यह मौका 21 फरवरी को मिलेगा. कुलभूषण जाधव भारतीय नागरिक हैं, पाक की ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई ने जाधव का अपहरण ईरान से किया था.

ये भी पढ़ें: भारत के इस कदम से बौखलाया पीसीबी, ICC की मीटिंग में उठाएगा मुद्दा

बता दें कि आज इंटरनेशनल कोर्ट में हरीश साल्वे ने कहा कि पाकिस्तान का व्यवहार अविश्वास पैदा करने वाला है. पाकिस्तान ने भारतीय नागरिक को गिरफ्तार करके आतंकवादी और बलूचिस्तान में शांति पैदा करने वाला भारतीय एजेंट बताया है. पाकिस्तान ने जाधव को गिरफ्तार करके भारत के खिलाफ साजिश रची है.

ये भी पढ़ें: वो कोर्ट जहां लड़ा रहा कुलभूषण जाधव का केस

भारत ने सोमवार को इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस में कहा कि पाकिस्तान के पास जाधव के खिलाफ पुख्ता सबूत नहीं है. इसलिए उनहें रिहा कर देना चाहिए. पाकिस्तान द्वारा सुनाई गई सजा को अमान्य करार देना चाहिए. पाकिस्तान एक अंतरराष्ट्रीय संधि के अनुसार जाधव पर दोष साबित होने से पहले उन्हें राजनयिक सहायता देने में विफल रहा है. इसलिए यह न्याय के हित में होगा.एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 18, 2019, 7:42 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर