• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • चीन की हर चाल होगी नाकाम, भारतीय सेना ने LAC पर लगाए नए कैमरे और सेंसर

चीन की हर चाल होगी नाकाम, भारतीय सेना ने LAC पर लगाए नए कैमरे और सेंसर

अब सेना ने कई पुराने कैमरों को हटाकर हाई क्वालिटी के कैमरे और सेंसर लगाए हैं.

अब सेना ने कई पुराने कैमरों को हटाकर हाई क्वालिटी के कैमरे और सेंसर लगाए हैं.

सरकारी सूत्रों के अनुसार भारतीय सुरक्षा बलों ने पूर्वी लद्दाख (Ladakh) से लेकर अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) तक चीन पर नजर बनाए रखने के लिए कैमरे और सेंसर में बदलाव किए हैं और पहले से ज्यादा संख्या में इन्हें लगाया गया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली: गलवान घाटी में हुए विवाद के बाद से ही भारत चीन सीमा (India China Border) पर तनाव बना हुआ है. अब भारतीय सेना ने चीनी सैनिकों की गतिविधियों पर नजर बनाए रखने के लिए एलएसी पर नए कैमरे और सेंसर लगा दिए हैं. भारतीय सुरक्षा बल धीरे धीरे एलएसी (LAC) पर कैमरों और सेंसर का एक नेटवर्क तैयार कर रहे हैं ताकि चीन (China) की हर एक चाल पर कड़ी निगरानी रखी जा सके. अब सेना ने कई पुराने कैमरों को हटाकर हाई क्वालिटी के कैमरे लगाए हैं.

    धीरे धीरे ही सही लेकिन सरकार अब हर मोर्चे पर बॉर्डर पर तैनात सैनिकों को हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार कर रही है. नए और आधुनिक हथियारों के साथ साथ ऑपरेशनल एरिया को भी नए नए उपकरणों से लैस किया जा रहा है. सरकारी सूत्रों के अनुसार भारतीय सुरक्षा बलों ने पूर्वी लद्दाख (Ladakh) से लेकर अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) तक चीन पर नजर बनाए रखने के लिए कैंमरे और सेंसर में बदलाव किए हैं और पहले से ज्यादा संख्या में इन्हें लगाया गया है.

    हाई रिज़ॉल्यूशन के कैमरे काफी दूर के क्षेत्रों तक आसानी से अपनी पकड़ बना लेते हैं और इससे विरोधियों और दुश्मों की गतिविधि को समझने में भी आसानी होती है. इन कैमरों की मदद से सैनिकों को अब दुश्मन की हर गतिविधी का आसानी से पता लग सकेगा और सुरक्षा बल पहले से ही किसी स्थान पर पहुंच सकेंगे.

    संसदीय समिति को भी दी थी सूचना
    सूत्रों का कहना है कि इन कैमरों और सेंसर से तैयार हुआ नेटवर्क दूर दराज और पहाड़ों से दूर जमीन पर बैठे कमांडरों को तुरंत एक्शन लेने में भी मदद कर रहे हैं. यह नेटवर्क तैयार करने से पहले इसकी जरूरत को लेकर संसदीय समिति को भी सूचना दी थी और कहा था कि चीन की हरकत पर नजर बनाए रखने के लिए देश को एक बड़े पैमाने पर कैमरे और सेंसर के नेटवर्क की जरूरत है.

    सूत्रों का कहना है कि दोनों देशों की तरफ से सीमा में तनाव कम करने के लिए जारी बातचीत के दौर में भविष्य में चारडिंग नाला क्षेत्र के मुद्दे को भी उठाया जा सकता है. चीन ने कुछ साल पहले चारडिंग नाला क्षेत्र में अपने टेंट लगा दिए थे और अभी भी यही स्थिति बनी हुई है. कहा जा रहा है कि अब तक चीन ने यहां 10 के आस पास अपने टेंट लगा दिए हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज