चीन के बंदरगाह में 5 माह से फंसा है जग-आनंद, कई भारतीय क्रू में​बर की बिगड़ी तबीयत

चीन के बंदरगाह में 5 माह से फंसा है जग-आनंद. (सांकेतिक फोटो)
चीन के बंदरगाह में 5 माह से फंसा है जग-आनंद. (सांकेतिक फोटो)

भारतीय मर्चेंट शिप जग-आनंद में अब न तो पर्याप्त दवाई बची है और न ही खाने पीने का सामान ही बचा है. चीन के बंदरगाह से भारतीय जहाज को वापस लाने की अपील भारत सरकार से की गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2020, 9:18 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. लद्दाख में भारत और चीन के बीच पिछले कई महीनों से चल रहे सीमा विवाद के चलते चीन के जिंगटैंक बंदरगाह पर भारतीय मर्चेंट शिप जग-आनंद पिछले जून महीने से फंसा हुआ है. इस जहाज पर 23 क्रू मेंबर मौजूद हैं. खबर है कि इन क्रू मेंबर्स में से कई की तबीयत काफी खराब हो गई है. जहाज में अब न तो पर्याप्त दवाई बची है और न ही खाने पीने का सामान ही बचा है. चीन के बंदरगाह से भारतीय जहाज को वापस लाने की अपील भारत सरकार से की गई है.

जानकारी के मुताबिक भारतीय मर्चेंट शिप जग-आनंद मुंबई की कंपनी ग्रेट ईस्टर्न शिपिंग लिमिटेड का जहाज है. इस जहाज पर ऑस्ट्रेलिया का 1.70 लाख टन कोयला भरा है. जहाज से जुड़े एक क्रू मेंबर ने बताया कि हमारी शिप मई में ऑस्ट्रेलिया से कोयला लेकर चले थे और 13 जून को जिंगटैंक पहुंच गए. लेकिन भारत और चीन के बाद बढ़े तनाव के बाद से चीन के अधिकारी जहाज से कोयला उतारने की अनुमति नहीं दे रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :- India-China Rift: LAC पर तनाव घटाने पर भारत और चीन सहमत, जल्द होगी एक और बैठक



क्रू मेंबर ने बताया कि पिछले 5 महीनों से हम यहां पर फंसे हुए हैं. अब तो शिप में दवाइयां और खाने पीने की सामग्री भी खत्म होने वाली है. हम सभी लोग घर जाना चाहते हैं लेकिन हमारी कोई खोज खबर नहीं ले रहा है. इस बारे में शिपिंग कंपनी के अधिकारियों का कहना है कि हम चीन के अधिकारियों से बात कर रहे हैं, लेकिन अब तक हल नहीं निकला है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज