Home /News /nation /

भारतीय मिसाइल 'अस्त्र' का परीक्षण पूरा, वायुसेना में होगी शामिल!

भारतीय मिसाइल 'अस्त्र' का परीक्षण पूरा, वायुसेना में होगी शामिल!

भारत की स्वदेशी मिसाइल 'अस्त्र' ने अपनी आखिरी परीक्षण उड़ान सफलता पूर्वक पूरी कर ली.

भारत की स्वदेशी मिसाइल 'अस्त्र' ने अपनी आखिरी परीक्षण उड़ान सफलता पूर्वक पूरी कर ली.

भारत की स्वदेशी मिसाइल 'अस्त्र' ने अपनी आखिरी परीक्षण उड़ान सफलता पूर्वक पूरी कर ली.

    भारत की स्वदेशी मिसाइल 'अस्त्र' ने अपनी आखिरी परीक्षण उड़ान सफलता पूर्वक पूरी कर ली. शुक्रवार को ये परीक्षण बंगाल की खाड़ी में ओडिशा के तट पर स्थित चांदीपुर में किया गया. बता दें कि यह हवा से हवा में मार करने वाली बियॉंड विजुअल रेंज मिसाइल (BVRSM) है.

    डीआरडीओ के एक सूत्र ने बताया कि परीक्षण 11 से 14 सितंबर के बीच किया गया. उन्होंने कहा कि कुल सात परीक्षण किए गए जो सफल रहे. रक्षा मंत्रालय ने आज एक बयान में कहा, 'ओडिशा में चांदीपुर अपतटीय क्षेत्र में बंगाल की खाड़ी के ऊपर 11 से 14 सितंबर तक अस्त्र BVRSM के आखिरी विकास उड़ान परीक्षण सफलतापूर्वक आयोजित किए गए.'

    लक्ष्य के रूप में पायलट रहित विमान को निशाना बनाते हुए सफलतापूर्वक कुल सात परीक्षण किए गए. इसी के चलते विजन रेंज से परे हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइल का भारतीय वायुसेना में शामिल किया जाना पक्का हो गया है.

    यह मिसाइल प्रणाली भारतीय वायुसेना के सहयोग से रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) द्वारा विकसित की गई है. हथियार प्रणाली को विकसित करने में रक्षा सार्वजनिक क्षेत्र के कई उपक्रमों और 50 से अधिक सार्वजनिक और निजी कंपनियों ने योगदान दिया है.

    रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने मिसाइल के सफल परीक्षणों पर डीआरडीओ, वायुसेना, रक्षा सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों और उद्यमों को बधाई दी. रक्षा मंत्रालय ने कहा कि सफल परीक्षणों के साथ हथियार प्रणाली का विकास चरण सफलतापूर्वक पूरा हो गया.

    DRDO की मिसाइल और रणनीतिक प्रणालियों के महानिदेशक जी सतीश रेड्डी ने कहा कि कार्यक्रम के तहत विकसित प्रौद्योगिकियां हवा से हवा में और सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइलों के अधिक संस्करणों के विकास के लिए महत्वपूर्ण साबित होंगी. मंत्रालय ने कहा कि उड़ान परीक्षणों में अत्यधिक लंबी दूरी और मध्यम दूरी पर कई लक्ष्यों को निशाना बनाने के परीक्षण भी शामिल थे.

    ये भी पढ़ें:
    नॉर्थ कोरिया के न्यूक्लियर हमले से बचाएगा ये शेल्टर, कीमत है 1 करोड़ रुपए
    चीन को 'आकाश' से नहीं डरा पाया भारत

    Tags: Odisha

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर