भीषण चक्रवाती तूफान 'फानी' से निपटने के लिए ये तैयारी कर रही है नौसेना

Photo Credit- Twitter

नौसेना ने जहाजों को पर्याप्त मात्रा में अतिरिक्त गोताखोरों, डॉक्टरों, हवा वाली रबड़ की नौकाओं और राहत सामग्री के साथ तैयार किया है.

  • Share this:
    बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र से पैदा हुआ चक्रवाती तूफान 'फानी' भीषण रूप ले सकता है. भारतीय मौसम विभाग की जानकारी के अनुसार यह चक्रवाती तूफान 4 मई की तड़के सुबह ओडिशा तट से टकरा सकता है.

    'फानी' सोमवार रात को बंगाल की खाड़ी में चेन्नई से लगभग 700 किमी दक्षिण पूर्व में स्थित था और 18 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ रहा था. अगले दो दिन में इसकी रफ्तार और ज्यादा बढ़ने की संभावना जताई जा रही है.

    ये भी पढ़ें- यूपी-राजस्‍थान में तबाही मचा सकता है तूफान, मौसम विभाग ने किया अलर्ट

    चक्रवाती तूफान के गंभीर होने की स्थिति में नौसेना की पूर्वी कमान तेजी से मानवीय सहायता पहुंचाने के लिए पूरी तरह से तत्पर है. इसके लिए नौसेना ने जहाजों को पर्याप्त मात्रा में अतिरिक्त गोताखोरों, डॉक्टरों, हवा वाली रबड़ की नौकाओं और राहत सामग्री के साथ तैयार किया है.

    फानी की गंभीरता बढ़ती देख भारतीय वायुसेना ने ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के परीक्षण को भी फिलहाल टाल दिया है. बता दें कि वायुसेना ने इसी सप्ताह ब्रह्मोस के परीक्षण की योजना बनाई थी. इस मिसाइल के सफल परीक्षण के बाद भविष्य में भारत को बालाकोट जैसी एयर स्ट्राइक करने में बाहरी देशों की मदद की ज़रूरत नहीं पड़ेगी.

    ये भी पढ़ें- खतरनाक होता जा रहा है ये चक्रवाती तूफान, ले सकता है भयंकर रूप

    फानी तूफान के कारण उत्तर तमिलनाडु, पुडुचेरी और दक्षिण आंध्र प्रदेश के तटों पर 30 अप्रैल की सुबह से हवा की गति 50-60 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंचने और फिर 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने की संभावना है.