नौसेना ने हेलीकॉप्‍टर में बनाया MICU, किसी भी मौसम में मरीज को मिल सकेगा इलाज

हेलीकॉप्‍टर में बनाया गया एमआईसीयू. (Pic- Indian Navy)

हेलीकॉप्‍टर में बनाया गया एमआईसीयू. (Pic- Indian Navy)

Indian Navy: हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एएचएल) ने आईएनएएस 323 के एडवांस लाइट हेलीकॉप्टर एमके-3 में मेडिकल आईसीयू स्थापित किया है.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. कोरोना काल (Corona Pandemic) में नौसेना (Indian Navy) भी मरीजों की मदद के लिए लगातार काम कर रही है. फिर चाहे विदेश से ऑक्‍सीजन लानी हो या विदेश से भारतीयों को स्‍वदेश लाना हो, नौसेना हर मोर्चे पर मुस्‍तैद है. इस बीच नौसेना ने रविवार को मरीजों को बेहतर इलाज देने के संबंध में बड़ उपलब्धि हासिल की है. नौसेना ने अपने एएलके एमके 3 हेलीकॉप्‍टर (Helicopter MICU) में मेडिकल इंटेंसिव केयर यूनिट (MICU) को स्‍थापित किया है. इसके जरिये अब किसी भी मौसम में गंभीर मरीजों को इलाज के लिए कहीं भी ले जाया जा सकेगा.

भारतीय नौसेना ने गोवा के वायु स्टेशन आईएनएस हंस पर एडवांस लाइट हेलीकॉप्टर (एएलएच) में मेडिकल आईसीयू बनाकर प्रतिकूल मौसम के बावजूद गंभीर मरीजों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने की अपनी क्षमता को बढ़ाया है.


नौसेना के एक प्रवक्ता ने यहां जारी बयान में कहा कि हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एएचएल) ने आईएनएएस 323 के एडवांस लाइट हेलीकॉप्टर एमके-3 में मेडिकल आईसीयू स्थापित किया है.
उन्होंने कहा, 'भारतीय नौसेना एमआईसीयू की सुविधा वाले एएलएच एमके-3 के जरिये प्रतिकूल मौसम के बावजूद गंभीर रोगियों को इलाज के लिये वायुमार्ग से एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जा सकती है.'


इस हेलीकॉप्‍टर में इमरजेंसी की स्थिति में मरीजों को बचाने के लिए 2 डिफिब्रिलेटर, मल्‍टीपैरा मॉनीटर, वेंटिलेटर, ऑक्‍सीजन सपोर्ट सिस्‍टम, इंफ्यूजन और सिरिंज पंप लगाए गए हैं. इसमें एक सक्‍शन सिस्‍टम भी लगा है, जो मरीजों के मुंह और सांस के रास्‍ते को साफ करने में मददगार होगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज