Home /News /nation /

दानिश सिद्दीकी ने जामिया में सीखे थे पत्रकारिता के गुर, जंग कवर करने में थे माहिर

दानिश सिद्दीकी ने जामिया में सीखे थे पत्रकारिता के गुर, जंग कवर करने में थे माहिर

दानिश सिद्दीकी ने टेलीविजन से अपना करियर शुरू किया. 2010 में वो रॉयटर्स से जुड़े.

दानिश सिद्दीकी ने टेलीविजन से अपना करियर शुरू किया. 2010 में वो रॉयटर्स से जुड़े.

दानिश सिद्दीकी (Indian Photo Journalist Danish Siddiqui) ने रॉयटर्स के साथ जुड़ने के बाद 2016-17 में मोसुल की लड़ाई, अप्रैल 2015 नेपाल भूकंप, रोहिंग्या नरसंहार से उत्पन्न शरणार्थी संकट, 2019-2020 में हांगकांग विरोध, 2020 में कोरोना महामारी को कवर किया है

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबान (Taliban) का कहर जारी है. इस बीच कंधार में तालिबान को कुछ दिनों से कवर कर रहे भारतीय फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी (Indian Photo Journalist Danish Siddiqui) की हत्या कर दी गई है. पुलित्जर अवॉर्ड से सम्मानित हो चुके सिद्दीकी न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के लिए काम करते थे. रॉयटर्स की जानकारी के मुताबिक, दानिश शुक्रवार को तालिबान के लड़ाकों और अफगान आर्मी के बीच जंग को कवर कर रहे थे. इसी दौरान उनकी हत्या हुई है. दानिश सिद्दीकी की हत्या पर रॉयटर्स ने शोक जाहिर किया है.

    जामिया से की मास कम्युनिकेशन की पढ़ाई
    दानिश सिद्दीकी मूल रूप से मुंबई के रहने वाले थे. उनके पिता का नाम अख्तर सिद्दीकी है. उनकी शुरुआती पढ़ाई मुंबई में ही हुई. जर्नलिज्म की पढ़ाई के लिए वो दिल्ली आ गए थे. उन्होंने जामिया मिलिया इस्लामिया से इकोनॉमिक्स में ग्रेजुएशन किया. 2007 में दानिश ने जामिया में एजेके मास कम्युनिकेशन रिसर्च सेंटर (Jamia Millia Islamia AJK MCRC) से मास कम्युनिकेशन में डिग्री ली.

    भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की हत्या, 3 दिन पहले जान बचने पर किया था ट्वीट

    2010 में ज्वॉइन किया था रॉयटर्स
    दानिश सिद्दीकी ने टेलीविजन से अपना करियर शुरू किया. 2010 में वो रॉयटर्स से जुड़े. इसी हफ्ते जब तालिबान ने कंधार के स्पिन बोल्डक पर कब्जा किया, तो स्पेशल फोर्सेस के साथ लगातार उसकी मुठभेड़ शुरू हो गईं. दानिश इसी मुठभेड़ को कवर कर रहे थे.

    जंग को कवर करने का था अच्छा खासा अनुभव
    दानिश सिद्दीकी ने रॉयटर्स के साथ जुड़ने के बाद 2016-17 में मोसुल की लड़ाई, अप्रैल 2015 नेपाल भूकंप, रोहिंग्या नरसंहार से उत्पन्न शरणार्थी संकट, 2019-2020 में हांगकांग विरोध, 2020 में कोरोना महामारी को कवर किया है. साल 2018 में सहयोगी अदनान आबिदी के साथ रोहिंग्या शरणार्थी संकट के असाधारण कवरेज के लिए उन्हें रॉयटर्स के फोटोग्राफी स्टाफ के हिस्से के रूप में पुलित्जर पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. दानिश फीचर फोटोग्राफी के लिए पुलित्जर पुरस्कार जीतने वाले पहले भारतीय थे.

    भारत में रॉयटर्स पिक्चर्स टीम को हेड करते थे दानिश
    दानिश भारत में रॉयटर्स पिक्चर्स टीम के प्रमुख भी थे. 2020 के दिल्ली दंगों के दौरान उनके द्वारा क्लिक की गई एक तस्वीर को रॉयटर्स ने 2020 की सबसे प्रभावशाली तस्वीरों में शामिल किया था.

    रॉयटर्स ने जताया शोक
    रॉयटर्स के अध्यक्ष माइकल फ्रिडेनबर्ग और एडिटर इन चीफ एलेसेंड्रा गैलोनी ने दानिश सिद्दीकी की हत्या पर शोक जाहिर किया है. रॉयटर्स ने एक बयान में कहा, "दानिश सिद्दीकी एक उत्कृष्ट पत्रकार, एक समर्पित पति, पिता और एक बहुत प्यार करने वाले सहयोगी थे. इस भयानक समय में हमारी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं."

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर