खराबी की वजह से रूस में प्रतियोगिता से बाहर हुई भारतीय टैंक

भाषा
Updated: August 13, 2017, 10:14 AM IST
खराबी की वजह से रूस में प्रतियोगिता से बाहर हुई भारतीय टैंक
देश के मुख्य लड़ाकू टैंक टी 90 एस (T-90S tank) को तकनीकी खामी के कारण अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता से हटना पड़ा.
भाषा
Updated: August 13, 2017, 10:14 AM IST
अपने सैन्य तैयारियों और असलहों पर नाज करने वाली भारतीय सेना को उस वक्‍त निराश होना पड़ा जब देश के मुख्य लड़ाकू टैंक टी 90 एस (T-90S tank) को तकनीकी खामी के कारण अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता से हटना पड़ा.

दरअसल, भारतीय सेना की ये टैंक रूस में चल रही अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता ‘टैंक बायथलान’ (tank biathlon 2017) में हिस्सा लेने गई थी. युद्ध टैंक की इंटरनेशनल प्रतियोगिता में चीन सहित 19 देशों ने भाग लिया.

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि भारतीय टीम इसके दो टी 90 टैंकों में गड़बड़ी आने के बाद अगले चरण में नहीं पहुंच पाई. यह प्रतियोगिता अलाबिनो रेंजेस में 29 जुलाई को शुरू हुई थी. रूस में बने टी-90एस टैंकों को लेकर यही माना जाता था कि ये काफी मजबूत और सक्षम है. इस प्रतियोगिता में रूस, चीन, बेलारूस और कजाखस्तान के युद्धक वाहन फाइनल में पहुंच गए.

indian tank t90s

आपको जानकारी के लिए बता दें कि 2001 से अबतक भारत 8525 करोड़ रुपये में 657 टी-90एस 'भीष्म' टैंकों का रूस से आयात कर चुका है. इसके बाद इन टैंकों को भारत में ही बनाया जा रहा है. अब तक मिली जानकारी के मुताबिक, ये टैंक इंजन में गड़बड़ी के कारण प्रतियोगिता से बाहर हो गए. इन टैंकों ने शुरुआती राउंड में शानदार प्रदर्शन किया था.

indian tank t90s
First published: August 13, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर