• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • 6 महीने में पहली बार देश में 3 लाख से कम एक्टिव केस, दूसरी लहर खत्म या तीसरी शुरू?

6 महीने में पहली बार देश में 3 लाख से कम एक्टिव केस, दूसरी लहर खत्म या तीसरी शुरू?

भारत में कोरोना की तीसरी लहर को लेकर आशंकाएं जाहिर की जा रही हैं. ( सांकेतिक तस्वीर-AP)

भारत में कोरोना की तीसरी लहर को लेकर आशंकाएं जाहिर की जा रही हैं. ( सांकेतिक तस्वीर-AP)

आंकड़ों के मुताबिक बीते 191 दिनों में अब सबसे कम एक्टिव केस (Corona Active Case) हैं. इसे दूसरी लहर के अंत के रूप में भी देखा जा रहा है. इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा त्योहारों को लेकर लोगों को सचेत रहने के लिए भी कहा जा चुका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. देश में करीब 6 महीने बाद पहली बार कोरोना के एक्टिव केस (Covid Active Case) की संख्या 3 लाख से कम हो गई है. रविवार को देश में करोना के कुल मामलों की संख्या 2,99,620 हो गई थी. यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) द्वारा जारी किए गए आंकड़ों में सामने आई है. आंकड़ों के मुताबिक बीते 191 दिनों में अब सबसे कम एक्टिव केस हैं. इसे दूसरी लहर के अंत के रूप में भी देखा जा रहा है. इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा त्योहारों को लेकर लोगों को सचेत रहने के लिए भी कहा जा चुका है.

    बीते लगातार चार सप्ताह से देश में कोरोना के नए मामलों में कमी देखी जा रही है. दरअसल अगस्त में केरल में एकाएक मामलों में वृद्धि के बाद नए मामलों की संख्या बढ़ गई थी. दूसरी लहर के पीक के दौरान मई महीने में पूरे देश में एक्टिव केस की संख्या 37 लाख से ऊपर पहुंच गई थी.

    मई के बाद क्या हुई स्थिति
    मई के बाद से दक्षिण भारतीय राज्य केरल में भले ही असमान्य रूप से मामले बढ़े लेकिन अन्य राज्यों में मामले सामान्य ही रहे. नॉर्थ ईस्ट सहित कुछ राज्यों में भी केस बढ़े थे लेकिन केरल की स्थिति चिंताजनक बन गई थी. अगर इस वक्त की बात करें तो भी पूरे देश में 55 फीसदी एक्टिव केस केरल से ही है. राज्य में इस वक्त 1.63 लाख एक्टिव केस हैं.

    फरवरी महीने जैसे हालात
    अब जो एक्टिव केस की स्थिति है वो लगभल इस साल के फरवरी महीने जैसी है जब देश में दूसरी लहर की शुरुआत नहीं हुई थी. देश में 20 राज्यों में 100 से ज्यादा केस रोज सामने आ रहे हैं और 10 राज्यों में 100 से कम. फरवरी में भी कुछ ऐसे ही हालात थे. उस वक्त भी देश में आधे से ज्यादा केस केरल और महाराष्ट्र से ही थे.

    त्योहारों के लिए दी जा चुकी है चेतावनी
    इस बीच देश में वैक्सीनेशन की रफ्तार भी बेहद तेज स्पीड से बढ़ाई गई है. लेकिन स्वास्थ्य मंत्रालय और एक्सपर्ट्स की तरफ से लोगों को लगातार चेतावनी दी जा रही है कि त्योहारों में सजगता बरतनी है. मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने जैसे नियमों पर जोर देने की बात कही गई है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि लापरवाही बरतने पर तीसरी लहर आने की आशंकाएं प्रबल हो जाएंगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज